इस समय करें निवेश, बन जाएंगे करोड़पति

अगर आप भी 2022 की दिवाली पर शेयर बाजार में पैसा लगाने की योजना बना रहे हैं तो आपके लिए एक अहम खबर है.

इस समय करें निवेश, बन जाएंगे करोड़पति
प्रतीकात्मक तस्वीर

अगर आप भी 2022 की दिवाली पर शेयर बाजार में पैसा लगाने की योजना बना रहे हैं तो आपके लिए एक अहम खबर है. शेयर बाजार में हर साल दिवाली के दिन मुहूर्त ट्रेडिंग की जाती है तो आप भी इस शुभ मुहूर्त में पैसा लगा सकते हैं. हिंदू संवत वर्ष 2079 की शुरुआत के पहले दिन दिवाली पर सोमवार को प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज बीएसई और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में एक घंटे का विशेष ट्रेडिंग सत्र 'मुहूर्त ट्रेडिंग' आयोजित किया जाएगा.

विभिन्न क्षेत्रों में खरीदारी

दोनों स्टॉक एक्सचेंजों ने अलग-अलग सर्कुलर में बताया है कि यह सांकेतिक कारोबारी सत्र शाम 6.15 बजे से शाम 7.15 बजे के बीच आयोजित किया जाएगा. ऐसा माना जाता है कि 'मुहूर्त' के दौरान सौदे करना शुभ होता है और वित्तीय समृद्धि लाता है. अपस्टॉक्स के निदेशक पुनीत माहेश्वरी ने कहा है कि दिवाली को कुछ भी नया शुरू करने का सबसे अच्छा समय माना जाता है. बाजार में धारणा सकारात्मक है और विभिन्न क्षेत्रों में खरीदारी हो रही है. ऐसा माना जाता है कि इस सत्र के दौरान खरीदारी करने से निवेशक को साल भर लाभ मिलता है.

व्यापारियों को इस दौरान सावधान रहना

उन्होंने कहा कि यह सत्र सिर्फ एक घंटे का है, इसलिए नए व्यापारियों को इस दौरान सावधान रहना चाहिए क्योंकि बाजार में उतार-चढ़ाव बना रहता है. सैंकटम वेल्थ के प्रोडक्ट्स एंड सॉल्यूशंस के सह-प्रमुख मनीष जेलोका ने कहा कि भारतीय शेयर बाजारों ने संवत 2078 के दौरान वैश्विक बाजारों की तुलना में कहीं बेहतर प्रदर्शन किया, जिसके संवत 2079 में भी जारी रहने की उम्मीद है.

निवेशक को लाभ

अपस्टॉक्स के निदेशक पुनीत माहेश्वरी ने कहा है कि दिवाली को कुछ भी नया शुरू करने का सबसे अच्छा समय माना जाता है. बाजार में धारणा सकारात्मक है और विभिन्न क्षेत्रों में खरीदारी हो रही है. ऐसा माना जाता है कि इस सत्र के दौरान खरीदारी करने से निवेशक को साल भर लाभ मिलता है.

सैंकटम वेल्थ के प्रोडक्ट्स

उन्होंने कहा कि यह सत्र सिर्फ एक घंटे का है, इसलिए नए व्यापारियों को इस दौरान सावधान रहना चाहिए क्योंकि बाजार में उतार-चढ़ाव बना रहता है. सैंकटम वेल्थ के प्रोडक्ट्स एंड सॉल्यूशंस के सह-प्रमुख मनीष जेलोका ने कहा कि भारतीय शेयर बाजारों ने संवत 2078 के दौरान वैश्विक बाजारों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया, जो संवत 2079 में भी जारी रहने की उम्मीद है.