date_range 14 Aug, 2020

कांग्रेस का दावा- भाजपा ने 9 विधायकों को गुड़गांव के होटल में बंधक बनाया; मंत्री जयवर्धन बोले- हमारे सभी 6 एमएलए लौटे


कांग्रेस का दावा- भाजपा ने 9 विधायकों को गुड़गांव के होटल में बंधक बनाया; मंत्री जयवर्धन बोले- हमारे सभी 6 एमएलए लौटे

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा भाजपा पर लगाए गए हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों पर मध्य प्रदेश में सियासी घमासान छिड़ा हुआ है। मंगलवार देर रात कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा ने कांग्रेस के 6, बसपा के 2 (एक निलंबित) और एक निर्दलीय विधायक को गुड़गांव के आईटीसी मराठा होटल में बंधक बनाया। इसबीच रात में ही भोपाल से मंत्री जीतू पटवारी और जयवर्धन सिंह को दिल्ली भेजा गया। पटवारी ने भास्कर को बताया कि हम होटल पहुंचते, तब तक सभी विधायक किसी अज्ञात स्थान पर शिफ्ट किए जा चुके थे। सिर्फ रामबाई होटल के बाहर मिलीं। रात करीब 2 बजे कुछ विधायक होटल से अपना सामान लेकर बाहर निकलते देखे गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 4 विधायकों को बेंगलुरु भेजा गया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से चर्चा के लिए दिल्ली जा सकते हैं।

जयवर्धन ने कहा कि हमने कांग्रेस के सभी 6 विधायकों से बात की है। वे लौटने को तैयार हैं। भाजपा रामबाई को गुमराह करके लाई थी। बसपा के 2 विधायकों से भी हमारी मुलाकात हो गई है। वे हमारे साथ हैं। पटवारी ने आरोप लगाया कि विधायकों को खरीदने के लिए 30-35 करोड़ रुपए का लालच दिया गया। हम जब होटल में गए तो एक नरोत्तम मिश्रा एक विधायक को तो जबरन उठाकर ले गए। इस पूरे घटनाक्रम के मास्टरमाइंड शिवराज सिंह हैं। वहीं, दिग्विजय ने कहा, ''मैं बिना प्रमाण कोई बात नहीं करता। सरकार पर संकट खत्म हो गया है। कोई खतरा नहीं है। हम सभी एकजुट हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ हॉर्स ट्रेडिंग को लेकर भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।''

दिग्विजय ने मंगलवार सुबह ट्वीट कर आरोप लगाया था कि भाजपा नेता भूपेंद्र सिंह विधायक रामबाई (बसपा से निलंबित) को अपने साथ चार्टर्ड प्लेन से लेकर दिल्ली पहुंचे थे। इसके बाद शाम को भाजपा उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के दिल्ली पहुंचने से सियासी पारा और चढ़ गया। जयवर्धन और पटवारी के अलावा दिग्विजय भी रात को होटल गए, लेकिन उन्हें वहां कोई नहीं मिला। यहां दिग्विजय ने कहा, ''भाजपा नेता रामपाल सिंह, नरोत्तम मिश्रा, अरविंद भदौरिया, संजय पाठक विधायकों को पैसे बांटने के लिए जा रहे थे। मुझे लगता है कि होटल में 10-11 विधायक होंगे। सिर्फ 4 उनके (भाजपा) साथ हैं।''

इन विधायकों के होटल में होने की पुष्टि

रामबाई (बसपा), पथरिया

बिसाहूलाल (कांग्रेस), अनूपपुर

हरदीप सिंह (कांग्रेस), सुवासरा

सुरेंद्र सिंह शेरा (निर्दलीय), बुरहानपुर

संजीव कुशवाह (बसपा), भिंड

ऐंदल सिंह कंसाना (कांग्रेस), सुमावली

Write your comment

add