date_range 04 Apr, 2020

देवी कोल मंदिर मेला वृक्षारोपण के साथ सम्पन


मसूरी 18 जुलाई
लगभग छ: हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित देवीकोल की पहाड़ी पर आषाढ मास की समाप्ति पर प्रतिवर्ष लगने वाला मेला बुधवार को माँ भद्रकाली की पूजा अर्चना व वृक्षारोपण के साथ हर्षोल्लास से संपन्न हो गया। सिलवाड़ व अठज्यूला पट्टी से सटे लगभग दो दर्जन गावों के लोगों ने महिलाओं सहित वृक्षारोपण में बढचढ क्र भागीदारी की और देवी कोल की पहाड़ी को हराभरा करने का बीडा उठाया।
मेले में पहुंचे स्त्री-पुरूषों ने माँ भद्रकाली मंदिर में दूध-सिरनी से माँ भद्रकाली देवी की विशेष पूजा अर्चना की और अपने परिवार, पशुधन तथा फसलों की रक्षा की मनौतियां मांगी। मंदिर प्रांगण में ढोल दमाऊ व रणसिंघा की थाप पर पश्वाओं पर देवता अवतरित हुए जिन ढोलवादक दलों ने अपनी ढोलविद्या से शांत किया । देवी कोल की पहाड़ी पर अपने पारंपरिक परिधान में पहुंची महिलाओं ने पुरूषों के साथ मिलकर क्षेत्र की अनूठी संस्कृति का प्रदर्शन · हुए हुए तांदी रासौ नृत्य व गीत प्रस्तुत किये । इस मौके पर मंदिर समिति अध्यक्ष जोध सिंह रावत भी उपस्थित रहे। मंदिर के पुजारी ब्रह्मानंद बिजलवाण ने पूजा संपन्न करवाई
इस मौके पर देवी कोल मंदिर एवं पर्यटन समिति द्वारा इस वृक्षारोपण का भी आयोजन गया था जिसमें मेले में पहुंचे पुरूष व महिलाओं ने एक एक पौधा रोपा और देवी कॉल की पहाड़ी को हरा भरा रखने की शपथ ली । वृक्षा रोपण में मंदिर समिति सचिव नागेंद्र सिंह राणा, कोषाध्यक्ष नागेंद्र सिंह रावत, क्षेत्र पंचायत सदस्य ·मल सिंह रावत, गोविंद सिंह रावत, प्रेमसिंह रावत, ·न्हैया सिंह राणा सहित दर्जनों लोगों ने भाग लिया।
-

Write your comment

add