Samsung के कई Models में security risk, हो सकता है data leak!

नए साल पर सैमसंग का फोन लेने की सोच रहे हैं? अगर हां, तो जरा रुक जाएं या वीडियो खत्म होने तक जरूर देखें, क्योंकि इसमें है आपके लिए बहुत जरूरी बात।

Samsung
  • 146
  • 0

क्या आप भी सैमसंग यूजर हैं? हां नए साल पर सैमसंग का फोन लेने की सोच रहे हैं? अगर हां, तो जरा रुक जाएं या वीडियो खत्म होने तक जरूर देखें, क्योंकि इसमें है आपके लिए बहुत जरूरी बात। हाल ही में भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया टीम (सीईआरटी-इन) ने सुरक्षा सलाहकार जारी किया है, जिसका मुताबिक करोनो नए या पुराने सैमसंग फोन में सुरक्षा खामियां पाई गई हैं। इसे एक हाई-रिस्क इश्यू बताया गया है, सैमसंग मालिकों को जल्दी से जल्दी फोन का ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट करने की हिदायत दी गई है।

CERT-In क्या है?

सीईआरटी-इन एक राष्ट्रीय एजेंसी है जो देश में साइबर सुरक्षा को बनाए रखने का काम करती है। साइबर अपराध पर जानकारी एकत्र करना, विश्लेषण करना या वितरित करना, अन्य संबंधित पूर्वानुमान या अलर्ट भी जारी करता है। ई-अपराध को संभालना या इसके न्यायिक दिशानिर्देश या सलाह जारी करना भी एजेंसी का काम है।

क्या हैं सुरक्षा संबंधी मुद्दे?

सैमसंग फोन में पाई गई दिक्कतों का फायदा, कोई भी हैकर आपके सिम का पिन हटाकर मोबाइल स्टोरेज में संवेदनशील विवरण निकाल सकता है। यहाँ नहीं बाल्की आपके फ़ोन में उपलब्ध फ़ाइलें भी सुरक्षित नहीं हैं। फोन को मैनिपुलेट किया जा सकता है जिसे आप पूरी तरह से कंट्रोल कर देंगे। सिर्फ आपका सेलफोन ही नहीं बल्कि बैंक अकाउंट भी खतरे में पड़ सकता है। सोशल मीडिया प्रोफाइल से लेकर दस्तावेज तक, कुछ भी कभी भी किसी के भी हाथ लग सकता है।

किन मॉडल्स में है रिस्क?

सैमसंग गैलेक्सी या एंड्रॉइड संस्करण 11, 12, 13, या 14 का उपयोग कर रहे सेलफोन मालिक जोखिम श्रेणी में हैं। अगर आप इनमें से कोई भी मॉडल इस्तेमाल कर रहे हैं तो आज ही सावधान रहें। जिन यूजर्स के पास दूसरे सैमसंग मॉडल हैं वो भी सावधान हैं ताकि किसी भी तरह से साइबर धोखाधड़ी से बच सकें।

Hackers se kaise bachein?

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सैमसंग फोन यूजर्स के लिए मुश्किल है तब भी बच सकते हैं जब वो अपने डिवाइस का ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट कर देंगे। दरसअल ज्यादा समय तक पुराने फर्मवेयर का उपयोग करने से सैमसंग मॉडल में हैकिंग का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में सिस्टम अपडेट को नजरअंदाज करें पर हैकर्स आपके फोन की सुरक्षा चरणों को आसान से बायपास करें बिना आपकी मर्जी के निजी विवरण निकाल सकते हैं। इसलीये फोन अपडेट का अलर्ट आते ही उसपर एक्ट करें। साथ ही किसी भी अज्ञात वेबसाइट, ऐप, या लिंक पर क्लिक न करें।

ये एडवाइजरी सिर्फ सैमसंग ही नहीं दूसरे फोन यूजर्स के लिए भी एक चेतावनी है कि समय रहते वो अपने फोन को अपडेट करते रहें।

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT