दिल्ली नगर निगमों का विलय, विधेयक को केंद्रीय कैबिनेट से मिली मंजूरी

दिल्ली के तीनों नगर निगमों का विलय करने के लिए लाए गए विधेयक को केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी मिल गई है. केंद्र सरकार ने तीनों नगर निगमों का विलय करने का निर्णय लिया है. कैबिनेट में विलय करने के प्रस्ताव को स्वीकृति मिल गई है.

  • 577
  • 0

दिल्ली के तीनों नगर निगमों का विलय करने के लिए लाए गए विधेयक को केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी मिल गई है. केंद्र सरकार ने तीनों नगर निगमों का विलय करने का निर्णय लिया है. कैबिनेट में विलय करने के प्रस्ताव को स्वीकृति मिल गई है.

यह भी पढ़ें:ओवन में मिली दो महीने की बच्ची की लाश, बेटे की चाह में मां ने की हत्या

दिल्ली में एक नगर निगम अस्तित्व में आ जाएगा

आपको बता दें कि, यह बिल संसद के दोनों सदनों में पास होने के बाद राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के साथ ही 10 साल बाद फिर दिल्ली में एक नगर निगम अस्तित्व में आ जाएगा. सूत्रों के अनुसार, दस साल पहले दिल्ली नगर निगम एक ही था जिसे दिल्ली नगर निगम संशोधन एक्ट 1911 में बदलाव करके पूर्वी दिल्ली नगर निगम, उत्तर दिल्ली नगर निगम और दक्षिणी दिल्ली नगर निगम में बदला गया था.

यह भी पढ़ें:पतले-दुबले होने का कैदी ने उठाया फायदा, जानिए बिना ताला और सलाखें तोड़े कैसे हुआ फरार ?

आम आदमी पार्टी ने केंद्रीय कैबिनेट को प्रतिक्रिया दी

मिली जानकारी के अनुसार, आम आदमी पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से केंद्रीय कैबिनेट के इस फैसले के बाद कई प्रतिक्रिया दी है. एक ट्वीट में पार्टी के सदस्य ने लिखा है, 3 एमसीडी थी तब भी भाजपा हारती थी और एक हो गई तब भी हारेगी. एक अन्य ट्वीट में पार्टी ने तंजा कसते हुए लिखा की भ्रष्टाचारी भाजपा अगर सोच रही है की तीनों एमसीडी को एक करके हार से बच जाएगी. लेकिन दिल्ली की जनता आप के साथ मिलकर एमसीडी चुनाव में भाजपा की गलतफहमी जल्द दूर कर देगी. भाजपा के लिए एमसीडी में हार से बचना मुमकिन ही नहीं नामुमकिन है.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT