नदाव के बयान पर हंगामा, अनुपम खेर ने कहा- 'दोस्तों कुछ लोगों को सच जैसा है वैसा ही देखने और दिखाने की आदत नहीं होती..

गोवा में 53वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया (IFFI) समापन पर इजराइली फिल्म मेकर नदाव लपिड ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर जो बयान दिया, उस पर जारी घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है.

  • 491
  • 0

गोवा में आयोजित किए 53वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टीवल ऑफ इंडिया 2022 (IFFI) के समापन पर इजराइली फिल्म मेकर नदाव लपिड ने द कश्मीर फाइल्स को लेकर जो बयान दिया था, उस बयान के बाद काफी विवाद खड़ा हो गया है. इजराइली फिल्म मेकर नादव लापिड ने विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' को एक "प्रोपेगेंडा" और "वल्गर फिल्म" कहा था. उनके बयान के बाद बॉलीवुड के तमाम सेलेब्स नाराजगी जता रहे हैं. फिल्म अभिनेता अनुपम खेर ने भी लपिड के बयान पर नाराजगी जाहिर करते हुए ट्वीटर एक वीडियो शेयर करते हुए निंदा की है.


कश्मीर फ़ाइल्स’ का सच कुछ लोगों के गले में एक काँटे की तरह अटक गया: खेर

बता दें कि अनुपम खेर ने 'द कश्‍मीर फाइल्‍स' में मुख्य किरदार निभाया था. वह इस फिल्म में एक कश्मीरी पंडित के रोल में थे. उन्होंने ट्वीटर एक वीडियो शेयर करते हुए कहा कि  'दोस्तों कुछ लोगों को सच जैसा है वैसा ही देखने और दिखाने की आदत नहीं होती. वो उस पर अपनी मनपसंद खुशबू, मनपसंद जायका, अपने मनपसंद रंग लेपकर, सजाकर और संवारकर देखने के आदी होते हैं. कश्मीर का सच उन्हें पच नहीं रहा है. वे चाहते है कि उसे रंगीन खुशनुमा चश्मे से देखा और दिखाया जाए. यही वो करते आए हैं पिछले 25-30 सालों से.'

अनुपम खेर ने आगे कहा कि  ''आज जब उनकी इस मेहनत पर पूरी तरह कश्मीर फाइल्स ने पानी फेर दिया है सच को जैसा है वैसा ही दिखाकर तो उन्हें बहुत तकलीफ हो रही है. पेट में मरोड़ उठ रहे हैं. और वे गाहे-बगाहे मुंह से अपनी इस तकलीफ को जाहिर करते रहे हैं. जो सच जितनी भयावह है, जो सच जितना भद्दा है और नंगा है उसे अगर आप देख नहीं पाते तो आंखें मीच लिजिए और मुंह सील लिजिए उसका मजाक उड़ाना बंद कीजिए. क्योंकि हम इस सच के भुगतभोगी हैं. हमने और हमारी बहन-बेटियों ने इस सच को झेला है. ये सच हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा बन गया है. आप जाइये और पीडितो से पूछिए उनका भयावह, भद्दा सच. भारत और इसराइल दोनों दोस्त हैं. दोनों मुल्क आतंकवाद का शिकार रहे हैं. एक आम इसराइली कश्मीरी हिंदुओं का दर्द समझता है. बाकी हर देश में देश के कुछ दुश्मन अपने ही होते हैं. ये भी एक सच है. जय हिंद.”


अनुपम खेर  ने दी थी अपनी प्रतिक्रिया

 जब  द कश्मीर फाइल्स पर नदाव के दिए गए बयान पर अनुपम खेर से प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा था कि यदि प्रलय सही है, तो कश्मीरी पंडितों का पलायन भी सही है. टूलकिट गैंग एक बार फिर एक्टिव हो गया है. यह पूरी तरह से सुनियोजित लगता है. भगवान उन्हें सद्बुद्धि दें.' बता दें किअनुपम खेर ने इससे पहले एक ट्वीट में फिल्म से जुड़ी कुछ तस्वीरें पोस्ट करते हुए लिखा- झूठ का कद कितना भी ऊंचा क्यों ना हो... सत्य के मुकाबले हमेशा छोटा ही होता है.

कश्मीरी पंडितों की कहानी पर बेस्ड है मूवी

फिल्‍म 'द कश्‍मीर फाइल्‍स'  11 मार्च 2022 को रिलीज हुई थी.  इस फिल्म में 1990 में हुए कश्मीर विद्रोह को दिखाया गया है. फिल्म में कश्मीरी पंडितों के पलायन और नरसंहार के खोफनाक मंजर को दिखाया गया है. अनुपम खेर, पल्लवी जोशी और मिथुन चक्रवर्ती जैसे स्टार्स ने लीड रोल निभाया है. फिल्‍म ने बॉक्स ऑफिस पर 290 करोड़ रुपए से ज्यादा की कमाई की थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी फिल्‍म की सराहना की थी.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT