AIIMS भुवनेश्वर के 250 डॉक्टर-स्टाफ कोरोना संक्रमित, इमरजेंसी सेवाएं रहेंगी जारी

IIMS भुवनेश्वर के 250 डॉक्टर और कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. बड़ी संख्या में डॉक्टरों और कर्मियों के पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रबंधन ने सोमवार से ओपीडी सेवा बंद करने का फैसला किया है.

  • 860
  • 0

IIMS भुवनेश्वर के 250 डॉक्टर और कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. बड़ी संख्या में डॉक्टरों और कर्मियों के पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रबंधन ने सोमवार से ओपीडी सेवा बंद करने का फैसला किया है. बता दें कि पिछले 24 घंटों में ओडिशा में कोरोना के रिकॉर्ड 11,177 नए मामले सामने आए हैं.

ये भी पढ़ें:- Chhattisgarh: गाय ने दिया 3 आंख वाले बछड़े को जन्म, एक झलक पाने को उमड़ा हुजूम

राज्य में स्वास्थ्य कर्मियों और कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एम्स भुवनेश्वर 17 जनवरी से सभी विशेष और सुपर स्पेशियलिटी विभागों की वॉक-इन ओपीडी सेवाओं को अस्थायी रूप से निलंबित कर देगा. एम्स भुवनेश्वर के चिकित्सा अधीक्षक प्रोफेसर डॉ सच्चिदानंद मोहंती ने कहा कि संस्थान का यह निर्णय 250 से अधिक कर्मचारियों और छात्रों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद लिया गया है.

ये भी पढ़ें:- कोरोना का लगातार बढ़ता कहर, 24 घंटें में आए 2.71 लाख नए केस

ये सेवाएं जारी रहेंगी

एम्स भुवनेश्वर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि आपातकालीन सेवाएं जैसे डे केयर, रेडियोथेरेपी, डायलिसिस, ट्रॉमा और इमरजेंसी, जीवन रक्षक सर्जरी, टेली मेडिसिन सेवा, आईपीडी सेवा, कोविड टीकाकरण सेवा, पुराने पंजीकृत मरीजों के लिए टीकाकरण (बुधवार और शुक्रवार) और येलो बुखार (गुरुवार), पल्मोनरी (टीकाकरण आरएमआरसी), एनेस्थिसियोलॉजी (पीएसी और दर्द क्लिनिक) पहले की तरह जारी रहेगा.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT