सिर्फ 50000 रुपये में हो सकती है अमरनाथ यात्रा, 11 अप्रैल से शुरू होगा रजिस्ट्रेशन

अमरनाथ यात्रा पर पिछले दो साल से रोक थी और कोई भी नहीं जा सकता था। हालांकि इस साल यह यात्रा 30 जून से शुरू होने जा रही है।

  • 656
  • 0

अमरनाथ यात्रा पर पिछले दो साल से रोक थी और कोई भी नहीं जा सकता था। हालांकि इस साल यह यात्रा 30 जून से शुरू होने जा रही है। जी हां और अब जो लोग अमरनाथ यात्रा पर जाना चाहते हैं वे पैकिंग कर सकते हैं। ऐसे में सबसे पहले अमरनाथ जाने के लिए सबसे पहले रजिस्ट्रेशन कराना होता है। हां, और रोजाना 20 हजार ही रजिस्ट्रेशन होंगे। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 11 अप्रैल से शुरू होंगे।

जी हां, और 11 अप्रैल से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा। इसके साथ ही प्रत्येक यात्री से 100 रुपए रजिस्ट्रेशन शुल्क लिया जाएगा। आपको बता दें कि अमरनाथ यात्रा के लिए ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन पंजाब नेशनल बैंक, जम्मू एंड कश्मीर बैंक या यस बैंक की किसी भी नजदीकी शाखा में जाकर किया जा सकता है।

अब हम आपको बताते हैं कि अमरनाथ यात्रा शुरू करने के बाद किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

* महिलाओं के लिए साड़ी पहनना सुविधाजनक नहीं होगा, इसलिए उन्हें सलवार-कमीज, पैंट-शर्ट या ट्रैकसूट पहनकर यात्रा करनी चाहिए।

* ध्यान रहे कि अमरनाथ ट्रेकिंग बिल्कुल भी च प्पल पहन कर ना करें। ऐसा इसलिए है क्योंकि सड़कें फिसलन भरी हैं, इसलिए लेस वाले ट्रैकिंग शूज का इस्तेमाल करें।

* अपना सामान ले जाने वाले कुली के पास ही रहें, ताकि अगर आपको किसी चीज की जरूरत हो तो उसे तुरंत बैग से निकाला जा सके और सामान चोरी न हो सके।

* पहलगाम और बालटाल से आगे की यात्रा पर अपने साथ वाटरप्रूफ बैग में अतिरिक्त कपड़े और खाद्य पदार्थ ले जाएं। हां, गीले होने पर आप वास्तव में उनका उपयोग कर सकते हैं।

* पानी की बोतल, कुछ स्नैक्स जैसे भुने चने, सूखे मेवे, टॉफी, चॉकलेट आदि अवश्य ले जाएं।

* सनबर्न से बचने के लिए कोई भी मॉइस्चराइजर क्रीम या वैसलीन अपने साथ रखें।

* खो जाने से बचने के लिए कभी भी अकेले न चलें और हमेशा साथी यात्रियों के साथ रहें।

* किसी आपात स्थिति को देखते हुए अपना नाम, पता और घर का फोन नंबर हमेशा अपनी जेब में रखें। हां, और अगर आप किसी साथी के साथ या किसी समूह में जा रहे हैं, तो उनका फोन नंबर भी लिख लें।

* यदि आधार शिविर से निकलते समय आपका कोई साथी खो जाता है, तो तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दें और आप उस व्यक्ति को खोया हुआ घोषित करवा सकते हैं।

* किसी भी शार्टकट रास्ते से यात्रा पूरी करने की कोशिश न करें, ऐसा करना खतरनाक होगा।

* जो लोग वहां यात्रा करना चाहते हैं लेकिन इस बार नहीं जा सकते हैं, वे इसे टीवी पर देख सकते हैं, दरअसल इस बार आरती का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT