आज के दिन न करें ये गलतियां, नाराज हो सकते है भोलेनाथ

भगवान शिव को प्रसन्न करना जितना आसान है. वहीं पूजा में जरा सी भी चूक से भोलेनाथ नाराज हो जाते है. भोलेनाथ की पूजा करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है.

  • 879
  • 0

सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा और व्रत का विशेष महत्व है. इस दिन व्रत रखने से भगवान शिव और माता पार्वती प्रसन्न होते हैं. ऐसा माना जाता है कि सोमवार का व्रत करने से शिव जैसा पति मिलता है. ऐसा कहा जाता है कि शिव अपने भक्तों की आस्था और भक्ति से आसानी से प्रसन्न हो जाते हैं, इसीलिए उन्हें भोले बाबा भी कहा जाता है.

बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते है शिव

भगवान शिव ही एकमात्र ऐसे देवता हैं जो बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं. लेकिन अगर इनकी पूजा में किसी तरह की गलती हो जाए तो भगवान नाराज हो सकते हैं. इसलिए बहुत जरूरी है कि इनकी पूजा करते समय कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए. सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा और व्रत का विशेष महत्व है. इस दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद साफ कपड़े पहने. शिव पूजा के दौरान पहने जाने वाले कपड़ों पर विशेष ध्यान देना चाहिए. शास्त्रों के अनुसार सोमवार के दिन शिव को प्रसन्न करने के लिए पूजा में हरे, लाल, सफेद, केसरिया, पीले या आसमानी रंग के कपड़े पहनना शुभ माना जाता है. इसलिए इन रंगों को पहनें.

मां पार्वती और नंदी को गंगाजल और दूध का लगाएं भोग

शिव के साथ मां पार्वती और नंदी को गंगाजल और दूध का भोग लगाएं. शिवलिंग पर धतूरा, भांग, आलू, चंदन, चावल चढ़ाएं. यहां इस बात का विशेष ध्यान रखें कि चावल का दाना टूटा न जाए. फिर तिलक लगाकर धूप, दीपक जलाएं. पहले गणेश जी की आरती करें और फिर शिव की आरती करें. फिर शिव को घी, चीनी या प्रसाद चढ़ाएं. इसके बाद प्रसाद को सभी में बांटें. पूजा में बिल्वपत्र, चंदन, धतूरा और आकृति के फूल चढ़ाएं. भगवान शिव शीघ्र प्रसन्न होते हैं. पूजा के दौरान महामृत्युंजय मंत्र का 108 बार जाप करें.



RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT