IIT Madras ने निकाली गजब की खोज, खराब और पुरानी तस्वीरें को सही करने की सामने आई नई तकनीक

सीसीटीवी की खराब तस्वीरों को सही करने का IIT Madras के शोधकर्ताओं ने निकाला गजब का तरीका, जानिए कैसे हो सकता है अब ये कमाल.

  • 2094
  • 0

ऐसा अकसर देखा जाता है कि कई बार सीसीटीवी (CCTV) की फुटेज में कैप्चर हुई तस्वीरें सही से नहीं सामने आ पाती है. लेकिन इसका हल आईआईटी मद्रास के शोधकर्ताओं ने निकाल लिया है. उनके द्वारा ऐसी तकनीक तैयार की गई है जिसकी मदद से सीसीटीवी में कैप्चर हुई खराब तस्वीरों को फिर से ठीक किया जा सकता है. हां न कमाल की चीज. इसके लिए उन्होंने आर्टिफिशियल न्यूरल नेटवर्क की शक्ति का इस्तेमाल किया है. इससे उन तस्वीरों को सही किया जा सकेगा जो बारिश, धूप जैसी मौसमी स्थिति के चलते खराब हो जाती है. 

ये भी पढ़ें: अपनी लाडली Suhana Khan को डेट करने वाले के लिए Shahrukh Khan ने बनाए थे ये रूल्स

दरअसल आईईईई के जरिए प्रकाशित जर्नल में इस बात का जिक्र किया गया है कि यह तकनीक डॉ.ए.राजगोपालन के दिमाग की उपज है. वो आईआईटी मद्रास के इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग विभाग में स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज के चेयरपर्सन के पद पर हैं. इस काम में उनकी मदद मैत्रेय सुइन और कुलदीप पुरोहित ने की है. इस नई तकनीक का प्रयोग बारिश की धारियों, बारिश की बूंदों, धुंध आदि के चलते खराब हुई तस्वीरों को फिर से साफ करने में किया जाएगा.


ये भी पढ़ें: भारत में 24 घंटे के भीतर आए Coronavirus के 2.57 लाख नए मामले, जानिए एक्टिव केसों की संख्या

इस तकनीक का इस्तेमाल करते वक्त शोधकर्ताओं ने इस चीज को देखा कि एक सिंगल न्यूरल नेटवर्क के लिए तस्वीर के खराब हिस्सों को सही कर पाना संभव नहीं होगा, इसलिए ये फैसला लिया गया है कि इस काम को दो अलग-अलग चरणों में पूरा किया जाएगा. इससे पहली वाली स्टेज में एक न्यूरल नेटवर्क तस्वीर के खराब हिस्से को सीमित रखेगा और दूसरी स्टेज के अंदर यूरल नेटवर्क तस्वीर को सही करेगा. इसके बारे में बात करते हुए डॉ. राजगोपालन ने बताया कि बारिश और धुंध जैसी मौसमी खराबी की वजह से तस्वीर की क्वलिटी को बहुत हानि होती है. वैसे आपको बता दें कि इस तकनीक का इस्तेमाल सीसीटीवी की खराब तस्वीरों को फिर से सही करने के लिए तैयार की गई है.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT