प्रेमी ने प्रेमिका को छत से फेंका, पुलिस ने किया एनकाउंटर

लड़की को लखनऊ में चौथी मंजिल से फेंकने के आरोपी सुफियान को पुलिस ने एनकाउंटर में पकड़ लिया है.

  • 389
  • 0

लड़की को लखनऊ में चौथी मंजिल से फेंकने के आरोपी सुफियान को पुलिस ने एनकाउंटर में पकड़ लिया है. उसके दाहिने पैर में गोली का घाव है. उन्हें केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है. शुक्रवार सुबह ही सूफियान पर पुलिस कमिश्नर की ओर से 25 हजार का इनाम घोषित किया गया था.

पुलिस ने की जवाबी फायरिंग की

मंगलवार रात हुई घटना के बाद से सूफियान और उसका परिवार फरार चल रहा था. आज सुबह पुलिस को सूचना मिली कि वह दुबग्गा में है. इसके बाद एसीपी काकोरी डीके सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम ने इलाके की घेराबंदी कर दी. खुद को घिरा देख सुफियान ने पुलिस पर फायरिंग कर दी. पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की, जिसमें वह घायल हो गया.

पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत

परिवार द्वारा पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार, दुबग्गा निवासी निधि गुप्ता और सुफियान के बीच प्रेम संबंध थे. जब इस बात का पता लड़की के घरवालों को चला तो वे विरोध करने सुफियान के घर पहुंचे और शिकायत की. सूफियान लड़की के मामा को मारने के लिए बिल्डिंग की चौथी मंजिल पर पहुंच गया. पीछे पीछे युवती के मामा भी चले गए. सुफियान मामा का कॉलर पकड़कर हमला करने ही वाला था कि निधि वहां पहुंच गई. निधि जैसे ही वहां पहुंचती है, सुफियान उसे धक्का दे देता है.

मां लक्ष्मी गुप्ता ने आरोप लगाया

लड़की के मामा रवि गुप्ता ने सुफियान को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वह उन्हें धक्का देकर भाग गया. निधि ने नीचे देखा तो खून से लथपथ पड़ी थी. तुरंत अस्पताल ले जाया गया. जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. निधि के परिवार का आरोप है कि सुफियान उनकी बेटी पर धर्म बदलने का दबाव बना रहा था. निधि की मां लक्ष्मी गुप्ता ने आरोप लगाया, 'निधि कुछ दिन पहले अपनी नानी के घर गई थी. वापस आने के बाद वह सूफियान से नहीं मिलीं. सूफियान से बात तक नहीं कर रहा था. इसी बात को लेकर सूफियान नाराज हो गया. वह हमसे झगड़ा करता था और हमें जान से मारने की धमकी भी देता था. थाने में भी शिकायत की, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT