लता मंगेशकर की 93वीं जयंती पर, CM योगी ने लता मंगेशकर चौक का किया उद्घाटन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने बुद्धवार को सुर कोकिला "भारत रत्न" लता मंगेशकर की 93वीं जयंती पर अयोध्या में उनके नाम पर विकसित चौक उद्घाटन किया.

  • 509
  • 0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने बुद्धवार को सुर कोकिला "भारत रत्न" लता मंगेशकर की 93वीं जयंती पर अयोध्या में उनके नाम पर विकसित चौक का उद्घाटन किया. सीएम ने यहां पर आयोजित एक कार्यक्रम में केन्द्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी की मौजूदगी में लता मंगेश चौक का उद्घाटन किया. 

बता दें कि, पिछली फरवरी में स्वर कोकिला का निधन हो गया था. मंगेशकर की मौत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या के प्रमुख चौक का नाम लता मंगेशकर के नाम पर किए जाने की घोषणा की थी. 

 चौराहे पर लगी 40 फीट लंबी वीणा

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, अयोध्या में सरयू नदी के किनारे पर स्थित लता मंगेशकर चौराहे को 7.9 करोड़ की लागत से तैयार किया गया है. इस चौराहे पर 40 फीट लंबी और 12 मीटर ऊंची वीणा स्थापित की गई है. वीणा का वजन 14 टन है. 

लता दीदी ने अपना पूरा जीवन राम भक्ति में समर्पित किया: सीएम

चौराहे का उद्घाटन करने के बाद सीएम योगी ने संबोधित करते हुए कहा कि,"श्रीराम की नगरी को आज लता मंगेशकर चौक नाम से एक भव्य स्मारक प्राप्त हो रहा है. इसके लिए मैं श्रीराम को मानने वाले सभी लोगों को बधाई देता हूं. लता दीदी ने अपना पूरा जीवन राम की भक्ति में समर्पित किया, इसलिए उनके नाम पर पहला स्मारक यहीं बनना चाहिए था जो प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) जी की प्रेरणा से बना है."

अयोध्या दुनिया का वैभवशाली नगर

सीएम योगी ने अपने संबोधन में आगे कहा कि, "अयोध्या दुनिया का सबसे वैभवशाली नगर बनेगा. अयोध्या के चौक-चौराहे यहां के पूज्य संतों के नाम पर बनेंगे. आज हम सब इस बात पर गर्व की अनुभूति करते हैं कि श्री राम का भव्य मंदिर अयोध्या में बन रहा है. यहां लता दीदी की मूर्ति नहीं, पर जिस वीणा की उन्होंने जीवन भर साधना की वो लगाई गई है. डबल इंजन की सरकार अयोध्या के चौक-चौराहे को सुंदर बनाने के लिए काम करेगी, पर अयोध्या के लोगों को भी इसके लिए काम करना होगा".

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT