Rajasthan: दलित बेटी ने गाड़े झंडे, थाईलैंड में जीता गोल्ड मेडल

हाल ही में थाईलैंड के पटाया में इंटरनेशनल बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप का आयोजन किया गया. चैंपियनशिप में राजस्थान का नाम भी गर्व से ऊंचा हो गया है.

  • 341
  • 0

हाल ही में थाईलैंड के पटाया में इंटरनेशनल बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप का आयोजन किया गया. चैंपियनशिप में राजस्थान का नाम भी गर्व से ऊंचा हो गया है. यह नाम राजस्थान की बेटी प्रिया सिंह ने दिया है. दरअसल, प्रिया ने इस चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता है. ये वही प्रिया सिंह हैं, जो 2018 से 2020 तक तीन बार मिस राजस्थान का खिताब भी अपने नाम कर चुकी हैं.


आर्थिक स्थिति खराब

बता दें, मूल रूप से बीकानेर जिले की रहने वाली प्रिया की शादी आठ साल की उम्र में हो गई थी. लेकिन परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण प्रिया सिंह को नौकरी मिल गई. प्रिया जिम में नौकरी के लिए आवेदन करती है, जहां उसे अपने व्यक्तित्व के कारण नौकरी मिल जाती है. इसके बाद दूसरों को देखकर प्रिया ने जिम में ट्रेनिंग ली और राजस्थान की पहली सफल महिला बॉडी बिल्डर बनीं.


स्वर्ण पदक विजेता

दो बच्चों की मां, अंतरराष्ट्रीय स्वर्ण पदक विजेता प्रिया का कहना है कि एक महिला को अपना शरीर बनाने के लिए पुरुषों की तुलना में अधिक आहार और कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. उनकी सफलता के पीछे उनके परिवार ने उनका पूरा साथ दिया, जिसके कारण वह आज एक सफल जिम ट्रेनर हैं.

घूंघट से बिकनी तक का सफर

जिम करते वक्त प्रिया को पता चला कि यहां बॉडी बिल्डर चैंपियनशिप भी है. लेकिन राजस्थान की कोई भी महिला इसमें प्रवेश नहीं कर सकती थी. उसी दिन से प्रिया ने चैंपियनशिप में जाने का फैसला किया और डाइट और अन्य बातों का ध्यान रखते हुए दिन-रात मेहनत करती रहीं. प्रिया सिंह का सोशल मीडिया पर एक अकाउंट है, जिसमें लिखा है कि घूंघट से बिकनी तक का सफर. सिर्फ इंस्टाग्राम पर ही प्रिया सिंह के करीब 33 हजार फॉलोअर्स हैं. वहीं सोशल मीडिया पर तस्वीरें भी वायरल होती रहती हैं.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT