सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया केन्द्र सरकार को मुफ्त में देगी कोवीशील्ड की दो करोड़ खुराक

एसआईआई ने अब तक राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम के लिए सरकार को कोविशील्ड की 170 करोड़ से अधिक खुराक प्रदान की है. चीन और दक्षिण कोरिया सहित कुछ देशों में कोविड-19 मामलों में वृद्धि के बीच, सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को किसी भी स्थिति से निपटने

  • 544
  • 0

कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए सीमर इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने बड़ा फैसला लिया है. सीरम इंस्टीट्यूट ने केंद्र सरकार को कोविशील्ड वैक्सीन की दो करोड़ डोज मुफ्त में देने की पेशकश की है. आधिकारीक सूत्रों के मुताबिक, सीरम इंस्टीट्यूट में सरकार को और नियाक मामलों के निर्देशक प्रवेश कुमार सिंह ने स्वास्थ्य मंत्रालय को पत्र लिखकर 410 करोड़ रुपए मूल्य की खुराक निशुल्क देने का वादा किया है.मिली जानकारी के मुताबिक सिंह ने मंत्रालय से जानना चाहा है कि इन खुराकों की आपूर्ति कैसे की जा सकती है. 

SII ने अब तक सरकार को 170 करोड़ खुराक प्रदान की 

एसआईआई ने अब तक राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम के लिए सरकार को कोविशील्ड की 170 करोड़ से अधिक खुराक प्रदान की है. चीन और दक्षिण कोरिया सहित कुछ देशों में कोविड-19 मामलों में वृद्धि के बीच, सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है. भारत ने कोविड संक्रमित नमूनों की निगरानी और जीनोम अनुक्रमण बढ़ा दिया है. केवल 27 प्रतिशत पात्र वयस्क आबादी ने एहतियाती खुराक ली है और सरकारी अधिकारियों ने इसे लेने के लिए लोगों से अपील की है.

40 दिन होंगे महत्वपूर्ण

आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को आगाह किया कि अगले 40 दिन महत्वपूर्ण होंगे क्योंकि भारत में जनवरी में कोविड संक्रमण के मामलों में वृद्धि देखी जा सकती है. स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि अगर कोई लहर होती भी है, तो मृत्यु और अस्पताल में भर्ती होने की दर बहुत कम होगी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने मामलों में वृद्धि से निपटने के लिए देश की तैयारियों का आकलन करने के लिए बैठकें की हैं.

सभी यात्रीयों को RTPCR  कराना अनिवार्य 

केंद्र सरकार ने शनिवार प्रत्येक अंतरराष्ट्रीय उड़ान से आने वाले यात्रियों के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मामलों में नए उछाल से निपटने के लिए देश की तैयारियों का आकलन करने के लिए बैठकें की हैं। मंगलवार को देशभर की स्वास्थ्य सुविधाओं में कोविड संक्रमण से तेजी से निपटने के लिए परिचालन तत्परता की जांच करने के लिए मॉक ड्रिल आयोजित की गई। 


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT