कोविशील्ड लेने पर नहीं बनी एंडीबॉडी, अदार पूनावाला पर दर्ज हुआ केस जानिए पूरा मामला

शरीर में सीओवीआईडी ​​-19 के खिलाफ कोई एंटीबॉडी विकसित नहीं हुई थी

  • 1184
  • 0

लखनऊ के एक व्यक्ति ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला, आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव और अन्य के खिलाफ मंगलवार को एक पुलिस शिकायत दर्ज कर आरोप लगाया है कि उनके शरीर में सीओवीआईडी ​​-19 के खिलाफ कोई एंटीबॉडी विकसित नहीं हुई थी, जबकि एक खुराक के साथ टीका लगाया गया था. कोविशील्ड

जानकारी के मुताबिक एक वकील ने यह मामला दर्ज करवाया है. खबरों के अनुसार कोर्ट ने संबंधित थाना से रिपोर्ट लेकर अगली सुनवाई 2 जुलाई को करने का आदेश दिया है.शहर के रुचि खंड क्षेत्र के रहने वाले प्रताप चंद्रा ने अपने पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन निदेशक अपर्णा उपाध्याय समेत अन्य का भी नाम लिया है.

शिकायत करने वाले व्यक्ति के द्वारा कहा गया कि"परीक्षण के परिणाम से पता चला कि मैंने कोविड -19 के खिलाफ कोई एंटीबॉडी विकसित नहीं की, इसके बजाय, मेरे प्लेटलेट्स 3 लाख से घटकर 1.5 लाख हो गए। यह न केवल निराशाजनक है, बल्कि मेरे जीवन के लिए खतरनाक है,"

शिकायत करने वाले व्यक्ति के द्वारा कहा गया कि"परीक्षण के परिणाम से पता चला कि मैंने कोविड -19 के खिलाफ कोई एंटीबॉडी विकसित नहीं की, इसके बजाय, मेरे प्लेटलेट्स 3 लाख से घटकर 1.5 लाख हो गए। यह न केवल निराशाजनक है, बल्कि मेरे जीवन के लिए खतरनाक है,"

चंद्रा ने मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं होने पर कोर्ट जाने की भी धमकी दी "अगर प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है, तो मैं अदालत का रुख करूंगा. मैंने इस शिकायत में उन सभी सरकारी संस्थानों का भी उल्लेख किया है, जिन्होंने टीकाकरण के लिए इस वैक्सीन को अधिकृत किया है. 

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT