Afghanistan: तालिबान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से मांगी मान्यता, कहा- किसी भी विदेशी दूतावास को खतरा नहीं

अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबान ने पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने आश्वासन दिया है

  • 1490
  • 0

अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबान ने पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने आश्वासन दिया है कि वह किसी अंतरराष्ट्रीय दूतावास या संस्थान को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे. प्रवक्ता ने कहा कि तालिबान सरकार को अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा मान्यता दी जानी चाहिए. तालिबान ने भी महिलाओं को अधिकार देने के मुद्दे को दोहराया है.

प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि तालिबान ने उन लोगों को माफ कर दिया है जिन्होंने अतीत में उनके साथ लड़ाई लड़ी थी। जबीहुल्लाह मुजाहिद ने लोगों को सुरक्षा का आश्वासन दिया है. उन्होंने कहा कि तालिबान किसी से बदला नहीं लेगा. तालिबान ने कहा कि हम पड़ोसी देशों को आश्वस्त करते हैं कि हमारी धरती का इस्तेमाल गलत कामों के लिए नहीं किया जाएगा. हमें उम्मीद है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय हमें पहचानेगा. उन्होंने कहा कि विदेशी दूतावासों की सुरक्षा जरूरी है और तालिबान करेगा.

महिलाओं पर तालिबान ने क्या कहा तालिबान के प्रवक्ता ने कहा है कि महिलाओं को स्कूलों और अस्पतालों में काम करने की इजाजत होगी. मुजाहिदी ने कहा कि इस्लाम के अनुसार महिलाओं को अधिकार मिलेगा और उनके साथ कोई भेदभाव नहीं होगा. प्रवक्ता ने कहा कि अफगानों को अपने नागरिकों के लिए ऐसे नियम बनाने की आजादी है जो उनके मूल्यों के अनुरूप हों. ऐसे में दूसरे देशों को उनका सम्मान करना चाहिए.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT