शाकाहारी भोजन के होते हैं अनगिनत फायदे, बढ़ती है प्रतिरोधक क्षमता, दिल होता है तंदरुस्त

लाल मांस का इस्तेमाल आपकजी हृदय और स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। जबकि फल सब्जी का सेवन फायदेमन्द होता है। शाकाहारी भोजन आपकी प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है।

  • 2347
  • 0

भोजन हमारे जीवन बेहद अहम हिस्सा होता है। भोजन को लेकर हर किसी की अपनी पसंद नापसंद होती है। ये भी कहा जाता है कई खाना हमेशा अपनी पसंद का ही खाना चाहिए। जब आप अपनी पसंद का खाना खाते हैं तभी वो आपके शरीर को लगता है। भोजन को लेकर अलग-अलग लोगों की अलग- अलग पसंद होती है। आमतौर पर 2 तरह के भोजन को ज्यादा खाना पसंद किया जाता है शाकाहारी या मांसाहारी। कुछ लोगों को शाकाहारी तो वहीं कुछ लोगों को मांसाहारी भोजन पसंद होता है। शाकाहारी और मांसाहारी भोजन खाने वाले लोगों के बीच हमेशा एक बहस छिड़ी रहती है कि शाकाहारी भोजन बेहतर होता है तो कुछ कहते हैं नहीं मांसाहारी बेहतर होता है। तो आज वर्ल्ड वेजेटेरियन डे पर हम आपको देंगे इन सभी सवालों के जवाब। हम आपको बताएंगे कि शाकाहारी भोजन  आपके शरीर के लिए भी कितना फायदेमंद हो सकता है। 


क्यों मनाया जाता है? कब हुई शुरुआत? 

आपको बता दें कि हर साल 1 अक्टूबर को वर्ल्ड वेजेटेरियन डे बनाया जाता है। वर्ल्ड वेजेटेरियन डे 1977 में उत्तरी अमेरिकी वेजेटेरियनसोसायटी ने शुर किया था और 1978 में अंतर्राष्ट्रीय शाकाहारी संघ ने इसका समर्थन किया।इस दिन को मनाने का मकसद शाकाहारी भोजन के महत्व को समझना है फायदों को समझना है। शाकाहारी भोजन से शरीर में फैट नहीं बढ़ता साथ ही हृदय संबंधी दिक्क्तों से छुटकारा मिलता है हृदय रोग होने का खतरा हम हो जाता है। इसके अलावा ये कैंसर से सकता है इसमें मौजूद फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट कैंसर से लड़ने में मदद करते हैं।


शाकाहारी भोजन के फायदे

शाकाहारी भोजन के अनगिनत फायदे होते हैं। इससे हृदय रोग होने का खतरा कम होता है।लाल मांस का इस्तेमाल आपकजी हृदय और स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। जबकि फल सब्जी का सेवन फायदेमन्द होता है। इसके अलावा शाकाहारी भोजन आपकी प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है जिससे आपको बीमारयों से लड़ने की ताकत मिलती है।  ये आपके अंदर डयबिटीज के खतरे को भी कम कर देता है। कई तरह के शोध से पता चलता है कि अगर आप गंभीर बीमारियों से दूर रहना चाहते हैं तो शाकाहारी भोजन का ही सेवन करना बेहतर है। अगर आप मांसाहारी हैं तो वायरल इन्फेक्शन आदि होने का खतरा बढ़ जाता है। क्योंकि संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन की 2013 की एक रिपोर्ट के मुताबिक , दुनिया में लगभग 90% से ज्यादा  मांस कारखाने से आता है।  इन कारखानों में साफ़ सफाई आदि का ख्याल नहीं रखा जाता है जिस कारण से संक्रमण का खतरा बना रहता है। बहुत सी ऐसी बीमारियां होती है जो जानवरों के जरिये मनुष्य में फैलती हैं। 

रिसर्च से पता चला है कि टाइप 2 डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए शाकाहारी खाना ही सबसे बेहतर होता है। फल, सब्जियां, नट्स, बीज आदि हाई फाइबर वाली  चीज़ों का ही सेवन करना चाहिए। हालांकि इसमें कोई दोराय नहीं कि शाकाहारी भोजन में सभी मत्वपूर्ण तत्व, नूट्रिन्टस, प्रोटीन आदि पाए जातें हैं। लेकिन कुछ ऐसे विटामिन और प्रोटीन हैं जो आपको मांसाहार से मिल सकते हैं जैसे विटामिन डी, बी 12, और आदि। मांसाहारी भोजन का बिल्कुल भी सेवन न करने से इन तत्वों की कमी आपके शरीर में हो सकती है।  इसके अलावा प्रोटीन आदि की मात्रा भी शाकाहारी भोजन में थोड़ी कम होती है। 

हम ऐसा नहीं कह रहे  हैं कि मांसाहारी भोजन खराब होता है हमारा बीएस यही कहना है शाकाहारी भोजन ज्यादा खाना चाहिए। मांसाहारी भोजन का इस्तेमाल शरीर में प्रोटीन, विटामिन आदि कि पूर्ती करने के लिए करना चाहिए। जिससे आपके शरीर को इसके सिर्फ फायदे हों नुकसान नहीं। 

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT