Parliament New Building: नए संसद के भवन के उद्घाटन समारोह का इन विपक्षी दलों ने किया बहिष्कार

नए संसद भवन के उद्घाटन को लेकर लगातार सियासी बवाल मचा हुआ है. कई राजनीतिक दलों ने 28 मई को होने वाले समारोह का बहिष्कार किया है.

  • 266
  • 0

Parliament New Building Inauguration: संसद के नए भवन के उद्घाटन को लेकर घमासान हो शुरु हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 मई को संसद की नई इमारत का उद्घाटन करने वाले हैं. विपक्षी दल इसी बात को लेकर केंद्र पर हमलावर है. विपक्ष की मांग है कि नए संसद भवन का उद्घाटन राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से कराया जाए. विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार पर राष्ट्रपति का अपमान करने का आरोप लगाया है. विपक्ष उद्घाटन के बहिष्कार करने की बात कही है. इसमें राष्ट्रीय जनता दल (RJD) राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP)समेत का भी नाम शामिल हो गया है.  

इन विपक्षी दलों ने किया बहिष्कार

आम आदमी पार्टी ने नए संसद भवन के उद्घाटन में नहीं शामिल होने की बात कही है. 

बुधवार को राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने घोषणा की है वह समारोह में शामिल नहीं होगी.  

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ने उद्घाटन में शामिल नहीं होने की बात कही है. 

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) नए संसद भवन के उद्घाटन का बहिष्कार करेगी

भारतीय भाकपा ने मंगलवार को उद्घाटन समारोह के बहिष्कार की जानकारी दी थी.

शिवसेना (उद्धव गुट) भी नए संसद के उद्घाटन समारोह का बहिष्कार करेगी. 

तेजस्वी यादव का बयान 

नए संसद के उद्घाटन पर बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने मीडिया से कहा, हमारी सभी लोगों से बात हुई है हम लोग इसका बहिष्कार करेंगे. हम लोगों का मानना है कि नए संसद का उद्घाटन राष्ट्रपति के द्वारा होना चाहिए क्योंकि संसद का हेड राष्ट्रपति होता है और ये उद्घाटन उनसे न कराकर उनका अपमान किया जा रहा है.

28 मई को होगा उद्घाटन 

समाचार एजेंसी के मुताबिक, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ 28 मई को नए संसद भवन के उद्घाटन के अवसर पर बधाई संदेश जारी कर सकते हैं. दोनों सदनों के सांसदों को डिजिटल और फिजिकल दोनों तरह से समारोह के लिए निमंत्रण भेजा गया है.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT