18 जनवरी से शुरू होने वाला महिला राष्ट्रीय कुश्ती प्रशिक्षण शिविर कैंसल, SAI ने रेसलिंग फेडरेशन से मांगा जवाब

बृजभूषण शरण सिंह के ऊपर लगे आरोपों के बाद उन्होंने कहा कि अगर मैं दोषी पाया गया तो फांसी पर लटकने के लिए तैयार हूं. समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘मेरे खिलाफ पहलवानों के आरोपों में कोई सच्चाई नहीं हैं.

  • 356
  • 0

भारतीय कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिहं पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों के चलते महिलाओं का नेशनल रेसलिंग कोचिंग कैंप कैंसिल कर दिया गया है. वहीं भारतीय खेल प्राधिकरण ने रेसलिंग फेडरेशन से आरोपों पर 72 घंटे के अंदर जवाब मांगा है. बृजभूषण शरण सिंह पर ओलंपिक और राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं सहित पहलवानों द्वारा आरोप लगाए गए हैं कि वे सालों से महिला पहलवानों का यौन शोषण कर रहे हैं.

महिला राष्ट्रीय कुश्ती प्रशिक्षण शिविर कैंसल 

बता दें कि लखनऊ में 18 जनवरी से शुरू होने वाले महिला राष्ट्रीय कुश्ती प्रशिक्षण शिविर को भी रद्द कर दिया है. यह भारतीय खेल प्राधिकरण के राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्र (NCOE) में आयोजित होने वाला था जिसमें 41 पहलवान और 13 प्रशिक्षक और सहायक कर्मचारी भाग लेते. 

 बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक,  जंतर-मंतर पर धरना प्रदर्शन करने पहुंचे

भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) और WFI के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के ख़िलाफ़ यौन शोषण के आरोप लगाए जाने पर बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और अन्य रेसलर जंतर-मंतर धरना-प्रदर्शन करने पहुंचे.

मैं CBI जांच के लिए तैयार हूं: बृजभूषण शरण सिंह

बृजभूषण शरण सिंह के ऊपर लगे आरोपों के बाद उन्होंने कहा कि अगर मैं दोषी पाया गया तो फांसी पर लटकने के लिए तैयार हूं. समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘मेरे खिलाफ पहलवानों के आरोपों में कोई सच्चाई नहीं हैं. यौन उत्पीड़न का एक भी मामला साबित होने पर मैं फांसी पर चढ़ने को तैयार हूं. मैं डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष का पद नहीं छोड़ूंगा, लेकिन मैं सीबीआई या पुलिस द्वारा जांच के लिए तैयार हूं. मेरे खिलाफ इस साजिश के पीछे एक उद्योगपति का हाथ है. बृजभूषण शरण सिंह ने आगे कहा कि जान से मारने की धमकी मिलने पर विनेश फोगाट ने पुलिस से संपर्क क्यों नहीं किया.’

जंतर-मंतर पर पहलवानों का धरना 

इससे पहले बुधवार को भारतीय पहलवान विनेश फोगाट और साक्षी मलिक समेत कई लोगों ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर बैठकर धरना प्रदर्शन किया. गोल्ड मेडलिस्ट विनेश फोगाट कोच पर आरोप लगाया है कि महिला पहलवानों को प्रताड़ित कर रहे हैं और फेडरेशन के चहेते कुछ कोच महिला कोचों के साथ भी बदसलूकी करते हैं.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT