World Brain Tumour Day: बच्चों के लिए ब्रेन ट्यूमर खतरनाक, जानिए लक्षण और इलाज

8 जून को 'वर्ल्ड ब्रेन ट्यूमर डे' मनाया जा रहा है. इस दिन को इसलिए मनाया जाता है क्युकी लोगों को ब्रेन ट्यूमर के प्रति जागरूक किया जा सके.

  • 881
  • 0

आज 'वर्ल्ड ब्रेन ट्यूमर डे' है. इस दिन का मुख्य उद्देश्य लोगों को ब्रेन ट्यूमर के प्रति जागरूक करना है. वयस्कों के साथ-साथ बच्चों में भी ब्रेन ट्यूमर होता है. चलिए जानते है ब्रेन ट्यूमर के लक्षण और इलाज के बारे में.

आपको बता दें कि, 8 जून को 'वर्ल्ड ब्रेन ट्यूमर डे' मनाया जा रहा है. इस दिन को इसलिए मनाया जाता है क्युकी लोगों को ब्रेन ट्यूमर के प्रति जागरूक किया जा सके. इस दिन कई अभियानों, कार्यक्रमों, रैलियों के माध्यम से लोगों को ब्रेन ट्यूमर के खतरे, इसके लक्षणों के बारे में जानकारी दी जाती है. लोगों को उन लोगों की मदद करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है जिन्हें यह बीमारी है और जो अपना इलाज नहीं करवा सकते हैं. विश्व ब्रेन ट्यूमर दिवस की शुरुआत जर्मन ब्रेन ट्यूमर एसोसिएशन द्वारा वर्ष 2000 में पहली बार आम जनता में ब्रेन ट्यूमर के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए की गई थी. यह संगठन ब्रेन ट्यूमर के रोगियों और उनके परिवार के सदस्यों को भी सहायता प्रदान करता है. ब्रेन ट्यूमर घातक हो सकता है यदि इसके लक्षणों को पहचाना और तुरंत इलाज नहीं किया जाता है. ब्रेन का यह ट्यूमर बड़ों में ही नहीं बच्चों में भी होता है.

ब्रेन ट्यूमर के लक्षण

1. दौरा पड़ना

2. रोजाना सुबह सिरदर्द होना

3. चिड़चिड़ापन महसूस करना

4. कम सुनाई देना

5. शरीर का एक तरफा भाग कमजोर महसूस होना

6. भ्रम या चीजे याद ना रहना

7. धुंधलापन दिखना या दोहरी दृष्टि

ब्रेन ट्यूमर का इलाज

उपचार और जल्दी ठीक होने की संभावना ट्यूमर के आकार, उसके प्रकार, मस्तिष्क में उसकी स्थिति, बच्चे की उम्र, बच्चे के सामान्य स्वास्थ्य, मस्तिष्क में ट्यूमर कितनी दूर तक फैल चुकी है, आदि पर निर्भर करती है. हालांकि आज नई उन्नत तकनीक के आने से इलाज की सुविधा पहले से बेहतर हो गई है. वयस्कों में ब्रेन ट्यूमर का इलाज बच्चों में ब्रेन ट्यूमर के इलाज से बिल्कुल अलग होता है.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT