कोरोना की चपेट में आ रहे हैं 5 साल से कम उम्र के बच्चे, एक्सपर्ट ने कहा ये है काफी चिंता का विषय

दक्षिण अफ्रीका के विशेषज्ञों ने बच्चों में कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त की है. शुक्रवार रात तक देश में संक्रमण के 16,055 नए मामले सामने आ चुके थे और 25 संक्रमितों की मौत हो गई थी.

  • 803
  • 0

दक्षिण अफ्रीका के विशेषज्ञों ने बच्चों में कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त की है. शुक्रवार रात तक देश में संक्रमण के 16,055 नए मामले सामने आ चुके थे और 25 संक्रमितों की मौत हो गई थी. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कम्युनिकेबल डीसी (एनआईसीडी) की डॉ वसीला जसत ने कहा, 'हमने देखा है कि पहले बच्चे कोविड महामारी से इतने प्रभावित नहीं थे, बच्चों को अस्पतालों में भर्ती करने की ज्यादा जरूरत नहीं थी.'उन्होंने आगे कहा, 'महामारी की तीसरी लहर में पांच साल से कम उम्र के ज्यादा बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, 15 से 19 साल की उम्र के किशोरों को भी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.'

लगातार बढ़ रहे हैं मामले

अब चौथी लहर की शुरुआत के साथ, सभी आयु समूहों में मामले तेजी से बढ़े हैं, खासकर पांच साल से कम उम्र के बच्चों में. हालांकि अभी भी बच्चों में संक्रमण के मामले सबसे कम हैं. ज्यादातर मामले 60 साल से अधिक उम्र के लोगों में होते हैं, इसके बाद पांच साल से कम उम्र के बच्चे होते हैं. पांच साल से कम उम्र के बच्चों के अस्पताल में भर्ती होने के मामले बढ़े हैं, जो पहले नहीं थे.

7 राज्यों में बढ़े संक्रमण के मामले

एनआईसीडी के डॉ. माइकल ग्रूम ने कहा, 'बच्चों के लिए बेड और स्टाफ बढ़ाने सहित मामले बढ़ने पर तैयारियों के महत्व पर जोर देने की जरूरत है.' स्वास्थ्य मंत्री जो फाहला ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के नौ में से सात राज्यों में. संक्रमण के मामले और संक्रमण दर बढ़ रहे हैं

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT