Amit Shah In Rajasthan: गहलोत सरकार पर जमकर बरसे गृह मंत्री शाह, बोले- 'लाल डायरी के अंदर काले कारनामे..'

Amit Shah On Red Diary: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने राजस्थान की एक जनसभा को संबोधित करते हुए राज्य के सीएम अशोक गहलोत पर जमकर निशाना. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने राजस्थान के लिए कुछ नहीं किया है.

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह
  • 213
  • 0

Rajasthan Election 2023: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज यानी शनिवार को 'सहकार किसान सम्मेलन में शामिल होने के लिए के राजस्थान के गंगापुर पहुंचे हैं. यहां उन्होंने सम्मेलन को संबोधित किया. इस दौरान गृहमंत्री ने लाल डायरी का जिक्र करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि लाल डायरी में करोड़ों रुपए के भ्रष्टाचार का ब्यौरा छिपा है.

लाल डायरी का जिक्र कर गहलोत  पर बरसे गृहमंत्री 

'सहकार किसान सम्मेलन' में केंद्रीय गृह मंत्री अमित ने कहा कि, 'आजकल राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत लाल डायरी से बेहद डरे हुए हैं लेकिन वे डर क्यों रहे हैं? लाल डायरी के अंदर काले कारनामे छुपे हुए हैं. लाल डायरी में करोड़ों रुपए के भ्रष्टाचार का ब्यौरा है.' 

कांग्रेस ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया: गृहमंत्री 

अमित शाह ने बीजेपी की तारीफ करते हुए आगे बोले कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किसानों के लिए कई योजनाएं शुरु की. हर साल किसानों को 6 हजार रुपए किसान सम्मान निधि के रुप में दे रही है. गृहमंत्री ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया है. राजस्थान में किसानों को बिजली नहीं मिल रही है और बिजली खरीद में भी धांधली की जा रही है. 

कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने लगाए नारे 

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमारे अंतरिक्ष मिशन को नई गति और ऊर्जा दी. आज मैं नारे लगाने वालों से कहना चाहता हूं कि नारे लगाने की बजाय चंद्रयान को आगे बढ़ाया होता तो नारे लगाने की नौबत नहीं आती.

'गहलोत जी ने नारे लगाने के लिए भेजे हैं': गृहमंत्री 

बता दें कि गृह मंत्री के पहुंचते ही कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ता नारे लगाने लगे. इस पर गृह मंत्री ने कहा कि अशोक गहलोत जी कुछ लोगों को नारे लगाने के लिए भेजे हैं. नारे लगाने के बाद ये लोग वापस चले जाएंगे. गृह मंत्री ने बीजेपी कार्य कर्ताओं और वहां पर उपस्थित आम लोगों से कहा कि उन्हें नारे लगाने दीजिए वे खुद ही थक वापस चले जाएंगे. 

क्या है लाल डायरी का पूरा मामला? 

बताते चलें कि, राजस्थान में उस वक्त सियासत गरमा गई जब गहलोत सरकार के कैबिनेट के मंत्री राजेंद्र गुढ़ा ने विधानसभा में एक लाल डायरी लेकर पहुंच गए. उन्होंने सदन में दावा किया कि इस डायरी में सीएम गहलोत के कई राज छिपे हैं. इसके बाद से ही बीजेपी गहलोत सरकार पर लाल डायरी का जिक्र कर लगातार हमलावर है. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी राजस्थान के एक कार्यक्रम में लाल डायरी का जिक्र कर गहलोत सरकार पर निशाना साध चुके हैं. 

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT