दिल्ली सरकार ने उठाया अहम कदम, 10 साल के बाद भी चला सकेंगे डीजल गाड़ी

एनजीटी के आदेश के बाद दिल्ली-एनसीआर में 10 साल पुराने डीजल और 15 साल पुराने पेट्रोल वाहनों पर रोक लगा दी गई.

  • 2100
  • 0

एनजीटी के आदेश के बाद दिल्ली-एनसीआर में 10 साल पुराने डीजल और 15 साल पुराने पेट्रोल वाहनों पर रोक लगा दी गई है. हालांकि, जल्द ही  ऐसे वाहनों के मालिकों के लिए अच्छी खबर लेकर आ रही है. जल्द ही आप इन वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों में बदलने में सक्षम होंगे. इसके लिए दिल्ली सरकार सब्सिडी वाली किट भी उपलब्ध कराने जा रही है.

ये भी पढ़ें:- Bitcoin में आई बड़ी गिरावट, एक माह के निचले स्तर पर पहुंचे रेट

परिवहन विभाग को भी जारी किया नोटिस

दिल्ली परिवहन विभाग ने इस संबंध में एक सार्वजनिक नोटिस जारी किया है. इस नोटिस में कहा गया है कि इन वाहनों में इलेक्ट्रिक प्रोपल्शन के रेट्रो फिटमेंट सहित शुद्ध इलेक्ट्रिक ऑपरेशन के लिए इलेक्ट्रिक रेट्रो फिटमेंट किट के निर्माता और आपूर्तिकर्ता ऐसे वाहनों के मेक और मॉडल के बारे में परिवहन विभाग को जानकारी प्रदान करेंगे. जिसमें इलेक्ट्रिक किट लगाई जा सकती है. दिल्ली में बड़ी संख्या में ऐसे डीजल वाहन हैं, जिन्होंने 10 साल पूरे कर लिए हैं और उन्हें दिल्ली में चलने की अनुमति नहीं है. लेकिन इन वाहनों की स्थिति ठीक है. नियम के मुताबिक अगर ये वाहन सड़क पर आते हैं तो इन्हें जब्त कर लिया जाएगा. दिल्ली-एनसीआर में 10 साल पुराने पेट्रोल-डीजल वाहनों की संख्या लाखों में है, जाहिर तौर पर इसी के चलते आप सरकार दिल्ली की जनता को नए साल का तोहफा मान रही है.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT