कांग्रेस नेताओं के घर पर ईडी की रेड, राष्ट्रीय अधिवेशन से पहले हुई कार्रवाई से मचा हड़कंप

कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट करते हुए लिखा है, कांग्रेस के अधिवेशन से ठीक पहले छत्तीसगढ़ में ED भेज दी गई है. कांग्रेस के कई नेताओं के यहां छापे मरवाए जा रहे हैं. संदेश साफ है- तानाशाह डरा हुआ है.

  • 254
  • 0

ईडी की लगातार छापे मारी जारी है. ईडी ने अब कांग्रेसी नेताओं को निशाने पर लिया है. सोमवार तड़के मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के आधा दर्जन नेताओं के यहां ईडी ने छापेमारी की है. जिन नेताओं के खिलाफ ईडी ने एक्शन लिया है उनमें आर पी सिंह, गिरीश देवांगन, राम गोपाल अग्रवाल, विनोद, सन्नी अग्रवाल समेत कई नाम हैं. गौरतलब है कि 24 फरवरी से रायपुर में कांग्रेस का राष्ट्रीय अधिवेशन है. ऐसे समय में कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ ईडी की छापेमारी से सियासी गलियारों में हड़कंप मच गया है. 

ईडी ने कई कांग्रेसी नेताओं के ऊपर शिकंजा कसा है और ईडी ने कल रात रेंकी की थी इसके बाद सुबह दबिश दी है. जिन नेताओं के खिलाफ ये कार्रवाई हुई है, वह श्रीराम नगर, डीडी नगर, मोवा, गीतांजलि नगर, भिलाई में रहते हैं. जिन नेताओं के यहां छापे की खबर है, उनमें प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, श्रम कल्याण मंडल अध्यक्ष सुशील सन्नी अग्रवाल, विधायक देवेंद्र यादव, प्रवक्ता आरपी सिंह, विनोद तिवारी आदि शामिल हैं. गौरतलब है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अधिवेशन के लिए बड़े नेता छत्तीसगढ़ में जुट रहे हैं. 24 फरवरी से अधिवेशन की शुरुआत होगी और इससे पहले सोमवार को तड़के ईडी की टीमों द्वारा करीब आधा दर्जन नेताओं के घरों पर छापेमारी की खबर आ रही है.

सीएम भूपेश बघेल ने बोला हमला

ईडी के छापे को लेकर सीएम भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा कि 'छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष, पार्टी के पूर्व उपाध्यक्ष और एक विधायक सहित मेरे कई साथियों के घरों पर आज ईडी ने छापा मारा है. चार दिनों के बाद रायपुर में कांग्रेस का महाधिवेशन है. तैयारियों में लगे साथियों को इस तरह रोककर हमारे हौसले नहीं तोड़े जा सकते. 'भारत जोड़ो यात्रा' की सफलता से और अडानी की सच्चाई खुलने से भाजपा हताश है. यह छापा ध्यान भटकाने का प्रयास है. देश सच जानता है. हम लड़ेंगे और जीतेंगे.'

संदेश साफ है- तानाशाह डरा हुआ है: कांग्रेस 

वहीं कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट करते हुए लिखा है, कांग्रेस के अधिवेशन से ठीक पहले छत्तीसगढ़ में ED भेज दी गई है. कांग्रेस के कई नेताओं के यहां छापे मरवाए जा रहे हैं. संदेश साफ है- तानाशाह डरा हुआ है. हम इस कार्रवाई की निंदा करते हैं. लोकतंत्र की रक्षा के लिए कांग्रेस हमेशा डटी रहेगी.

बता दें कि विपक्ष लगातार भाजपा पर हमलावर है विपक्ष का कहना है कि बीजेपी जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है. 

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT