अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन की जिंदगी की अनसुनी दास्तान, जो शायद ही आपको पता हो!

जो बाइडेन को लोग एक राजनेता के तौर पर जानते हैं लेकिन असल जिंदगी में उन्होंने इतना कुछ झेला है जिसके चलते उन्होंने एक बार आत्महत्या के बारे में भी सोचा था। आइए जानते हैं व्यक्तिगत तौर पर उन्हें यहां।

  • 2234
  • 0

आखिरकर वो वक्त आ ही गया जब अमेरिका के नए राष्ट्रपति को चुन लिया गया है। वो कोई और नहीं बल्कि जो बाइडेन हैं। जिन्होंने भारी मत के साथ डोनाल्ड ट्रंप को हराया है। उनकी इस जीत पर अमेरिकी नागरिक खुशी का जश्न मानते हुए नजर आए हैं। इतना ही नहीं खुद भारत के पीएम नरेंद्र मोदी ने भी उन्हें शुभकामनाएं दी हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ वो उपराष्ट्रपति के पद पर काम करते हुए नजर आ चुके हैं। लेकिन आपको यहां जो बाइडेन की जिंदगी से जुड़े कुछ ऐसे पहलूओं के बारे में बताने जा रहे हैं, जोकि बहुत कम लोगों को पता है। लोग उन्हें एक राजनेता के तौर पर जानते हैं लेकिन असल जिंदगी में उन्होंने इतना कुछ झेला है जिसके चलते उन्होंने एक बार आत्महत्या के बारे में भी सोचा था। आइए जानते हैं उनकी जिंदगी से जुड़ी अनसुनी दास्तान के बारे में यहां।

- अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडेन ने शनिवार को रिपब्लिकन पार्टी के डोनाल्ड ट्रंप को दी मात। 

-  77 वर्षीय जो बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति होंगे, जोकि बराक ओबामा के कार्यकाल में उपराष्ट्रपति रहे।

- जो बाइडेन का पूरा नाम है जोसेफ रॉबिनेट बाइडेन जूनियर, उनका जन्म 1942 में पेन्सिलवेनिया के स्क्रैंटन में हुआ था।

- बाइडेन एक राजनेता के तौर पर है प्रसिद्ध, लेकिन व्यक्तिगत तौर पर कम लोगों को है उनके बारे में पता।

- उन्होंने अपने करियर की शुरुआत लॉ से की थी जोकि बाद में राजनीति की दुनिया की ओर चल पड़े।

- 1972 में बाइडेन सबसे कम उम्र के सीनेट चुने गए थे, लेकिन ज्यादा दिन तक सेलिब्रेट नहीं कर सके ये खुशी।

- एक महीने बाद क्रिसमस की शॉपिंग पर गई उनकी पत्नी और बेटी की कार एक्सीडेंट में हुई मौत।

- कार एक्सीडेंट में उनके दोनों बेटे हो गए थे घायल, अकेले संभाली उनकी जिम्मेदारी।

- पत्नी-बेटी को खोने और दोनों बेटे के घायल होने के बाद उनके मन में खुदकुशी का आया विचार।

- अपने बेटे का आया ख्याल तो मुश्किल भरे वक्त से लड़ने लिया फैसला।

- रोजाना वाशिंगटन और विलमिंगटन के बीच एमट्रैक ट्रेन से करते थे बच्चों की देखभाल के लिए सफर।

- बिना थके अपने कर्तव्य को पूरा करने के कारण उनका नाम 'एमट्रैक जो' पड़ा।

- उपराष्ट्रपति के पद थे मौजूद तब बड़े बेटे की 46 साल में ब्रेन कैंसर के चलते हुई मौत।

-  बाइडेन के छोटे बेटे का करियर भी भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण हो गया ख़राब।

-  उन्हें कोई पसंद करते हो या नहीं लेकिन एक चीज को नहीं कर सकते नजरअंदाज कि उन्होंने बहुत कुछ है झेला।

- जिंदगी में आगे इसलिए बढ़े क्योंकि उन्हें खुद पर रहा है विश्वास और कभी नहीं मानते हैं हार।

- 2020 के चुनाव में बाइडेन के लिए ओबामा भी काफी सक्रीय नज़र आए हैं और उनका समर्थन किया।

-बाइडेन कई बार विवादों में भी घिरे हैं, साहित्यिक चोरी, योन उत्पीड़न जैसे कई तरह के आरोप लगे हैं।

- साल 2019 में मिली जानकारी के मुताबिक बाइडेन करीब 15 मिलियन डॉलर के मालिक हैं।

- बाइडेन का सपना फौज में जाने का था लेकिन अस्‍थमा होने के कारण सपना रह गया अधूरा। 

- पहली पत्नी नीलिया के निधन के 5 साल बाद बाइडेन ने दूसरी शादी जिल से की थी।

-दूसरी शादी के बाद 1981 में एक बेटी हुई जिसका नाम एश्ली है।

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT