मध्य प्रदेश में महिलाएं होंगी 100 प्रतिशत सुरक्षित, सरकार का दावा

मध्य प्रदेश में महिलाों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए, एमपी में महिला सुरक्षा एप लांच कर दिया गया है

  • 869
  • 0

ग्वालियर: मध्य प्रदेश में महिलाओं  की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 'महिला सुरक्षा एप' लॉन्च कर दिया गया है. इस एप के जरिये महिलाओं को पूरी सेफ्टी दी जाएगी. ये एप क्यूआर कोड के जरिये तुरंत सुरक्षा देगा. महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश पुलिस को नई पहल की है. एमपी पुलिस की ये नई पहल सराहनीय है. इस महिला सुरक्षा एप का नाम माई ट्रैफिक माई सेफ्टी ऐप है. मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने माई ट्रैफिक माई सेफ्टी ऐप ग्वालियर पुलिस कंट्रोल रूम में लॉन्‍च किया है. 


नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि ग्वालियर शहर में माई ट्रैफिक माई सेफ्टी एप महिला सुरक्षा व्यवस्था का पक्का इंतजाम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. इस एप का मुख्य उद्देश्य राज्य में महिला सेफ्टी को बेहतर बनाना है.नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि ग्वालियर में इस एप की पहल सफल होने जाने के बाद इस एप को प्रदेश के अन्य नगरों में यानी पूरे प्रदेश भी एप लॉन्च किया जायेगा. फ़िलहाल, माई ट्रैफिक माई सेफ्टी एप में शहरी परिवहन वाहन से जुड़े ऑटो-टैक्सी रजिस्टर्ड होंगे. वाहन में लगे क्यूआर कोड के जरिए महिलाओं को तुरंत सुरक्षा मिलेगी.


वहीं दूसरी ओर वाहन की लोकेशन, ट्रैवल हिस्ट्री और डाटा पुलिस के सामने हाजिर हो जाएगा. इस एप को लेकर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि इस एप के जरिये हमारी बहन-बेटियां सुरक्षित रहेंगी. वहीं  इस एप के लॉन्च होने के साथ ही शहर के परिवहन वाहन ऑटो और टैक्सी के होने वाले अपराध से मुक्ती मिलेगी और अपराधियों के मन में भी डर बना रहेगा.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT