Monsoon: महाराष्ट्र सहित कई जगहों पर भारी बारिश, पूरी तरह से जनजीवन हुआ प्रभावित

पश्चिम बंगाल और भारत में कई राज्यों में मानसून का आगमन हो चुका है और महाराष्ट्र, बंगाल, बिहार जैसे राज्यों में जमकर बारिश हो रही है.

  • 1363
  • 0

जल ही जीवन है ये तो सभी को पता है पर जब जल बारिश के रूप में बरसता है तो कभी खुशहाली तो कभी सब बर्बाद करके रख देता है. ऐसे ही पश्चिम बंगाल और भारत में कई राज्यों में मानसून का आगमन हो चुका है और महाराष्ट्र, बंगाल, बिहार जैसे राज्यों में जमकर बारिश हो रही है.  लगातार बारिश होने से तापमान में भी गिरावट आ रही है और कई जगहों पर पानी भरने से लोग परेशान हो रहे है. पश्चिम बंगाल में हो रही मूसलाधार बारिश के कारण आम लोगों को मुसीबत का समना करना पड़ रहा है. वहीं कल हुई कोलकाता में सुबह साढ़े आठ बजे तक 24 घंटे में 144 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई.

पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में लगातार भारी बारिश होती जा रही है. लगातार भारी बारिश होने के कारण राजधानी कोलकाता के कई निचले इलाकों और सड़कों में पानी भर गया है. मौसम विभाग ने बताया की दक्षिण-पश्चिम मानसून और एक चक्रवाती परिसंचरण के प्रभाव के कारण अगले तीन दिनों में तेज़ बारिश हो सकती है. कोलकाता के कई इलाकों की हालत इतनी ख़राब है की पंप लगा कर सड़कों से भरा हुआ पानी निकाला जा रहा है. लगातार बारिश की वजह से निचले इलाकों में पानी में फंसे लोगों को पीने का पानी और खाने के पैकेट मोहया करवाया जा रहा है 

जिन इलाको में पानी के कारण बुरा हाल है वो बालीगंज, सर्कुलर रोड, लाउडन स्ट्रीट, सदर्न एवेन्यू की सड़कों और गलियों तथा कस्बा, बेहाला और टॉलीगंज है. वही पश्चिम मानसून पश्चिम बंगाल के गंगीय क्षेत्र में जोरदार बारिश की वजह से इस क्षेत्र में एक चक्रवाती परिसंचरण बना है. 

 उत्तर भारत में 27 जून तक हो सकती है मानसून की बारिश

राजधानी दिल्ली और उत्तर भारत के राज्यों को बारिश के लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा. इस पर भारत के मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि मानसून के राजस्थान, पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा और दिल्ली की तरफ आना अभी सही नहीं होगा. आईएमडी ने पूर्वानुमान में कहा गया है कि मानसून अभी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली पहुंचने के लिए वायुमंडलीय स्थिति ठीक नहीं है.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT