Pradhan Mantri kusum Scheme: किसानों को नहीं होगी सिंचाई में परेशानी, लगेगा सोलर वाटर पंप

केंद्र सरकार की इस प्रधानमंत्री कुसुम योजना के द्वारा किसानों को उन डीजल-पेट्रोल से चलने वाले पंपों से छूटकर दिलाकर सोलर ऊर्जा पम्प को बढ़ावा देना है.

  • 564
  • 0

केंद्र सरकार की इस प्रधानमंत्री कुसुम योजना (Pradhan Mantri kusum Scheme) के द्वारा किसानों को उन डीजल-पेट्रोल से चलने वाले पंपों से छूटकर दिलाकर सोलर ऊर्जा पम्प को बढ़ावा देना है. इस योजना को पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुरू किया था. सरकार की ओर से गरीबों, महिलाओं और किसानों के लिए बहुत सी योजनाएं चलाई जा रही है, जिनका लाभ देश के करोड़ों लोग ले रहे है. ऐसी ही एक योजना सरकार ने किसानों के लिए चलाई है जिसका नाम 'प्रधानमंत्री कुसुम योजना' है.

सरकार ने सोलर पवार को बढ़ावा देने के लिए इस योजना की शुरुआत की है. इस योजना का पूरा लाभ किसानों को दिया जायेगा. सरकार ने इसके लिए कृषि सिंचाई विभाग को सोलर पम्प सेट लगाने के लिया 75 प्रतिशत की सब्सिडी पर 20 हजार सोलर पम्प कनेक्शन लगवान  के निर्देश दिए है. किसान इस योजना के तहत सोलर पम्प लगवाने के लिए Saral Portal SaralHaryana.gov.in पर आवेदन कर सकते है.  केंद्र सरकार की इस प्रधानमंत्री कुसुम योजना के द्वारा किसानों को उन डीजल-पेट्रोल से चलने वाले पंपों से छूटकर दिलाकर सोलर ऊर्जा पम्प को बढ़ावा देना है. आपको बता दें  इस योजना को पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुरू किया था.

इस योजना का उद्देश्य किसानों को सिंचाई के लिए अच्छे साधन के साथ साथ वित्तीय सहायता और सस्ती सिंचाई भी उपलब्ध कराना था. केंद्र सरकार ने इस योजना के लिए 34,422 करोड़ रुपये का का बजट पेश किया था. ऐसे कई राज्य है जहाँ पानी की कमी रहती है और इस कारण से किसानों की फसल खराब हो जाती है. ऐसे में किसानों की समस्याओं का समाधान करने के लिए सरकार ने पीएम कुसुम योजना की शुरुआत की.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT