“सोशल मीडिया है बेलगाम घोड़ा"-सीएम योगी

इलेक्शन से पहले अपनी तैयारियों में जुटी बीजेपी ने भी अब सोशल मीडिया पर भी लड़ाई लड़ने की शुरूवात कर दी है.

  • 1012
  • 0

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 करीब हैं. और सभी पार्टियां जोरों से चुनाव की तैयारियों में जुटी हुई हैं. इलेक्शन से पहले अपनी तैयारियों में जुटी बीजेपी ने भी अब सोशल मीडिया पर भी लड़ाई लड़ने की शुरूआत कर दी है. लखनऊ में यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी शुक्रवार को बीजेपी पार्टी की आईटी सेल के लोगों से बात करते हुए कहा कि ‘सोशल मीडिया एक बेलगाम घोड़ा है, ऐसे में सोशल मीडिया पर भी लड़ाई लड़ने के लिए सभी को तैयार रहना होगा’. सीएम योगी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से भी कहा कि ‘अगर वह अलर्ट नहीं रहेंगे तो प्रेस के लोग उन्हें मीडिया ट्रायल्स का शिकार बना सकते हैं’.


सीएम योगी आदित्यनाथ का कहना है कि ‘टीवी चैनल्स और न्यूज पेपर्स को चलाने वाले लोग औद्योगिक घराने से आते हैं, लेकिन सोशल मीडिया का कोई माई-बाप नहीं है. टीवी और अखबारों की चीजों पर नियंत्रण करने वाले लोग मौजूद हैं, लेकिन सोशल मीडिया पर ऐसी कोई व्यवस्था नहीं है’. योगी आदित्यनाथ बोले, कि इसलिए आईटी सेल को इस बेलगाम घोड़ों को नियंत्रित करने के लिए हमारे पास उस तरह की ट्रेनिंग और तैयारी होनी चाहिए.


कोविड की दूसरी लहर में विरोघी बने बीजेपी कार्यकर्त्ता से सीएम ने कही ये बात 

आपको बता दें कोविड की दूसरी लहर के दौरान कई बीजेपी नेताओं के सरकार का विरोध किया था. जिसपर सीएम योगी का कहना है कि कोरोना काल में दूसरी लहर के बीच हमारे अपने ही लोग भावुक होकर सड़क पर उतर आए थे. इनमें से कई बीजेपी नेताओं ने सड़क पर विपक्षियों के कैंडल मार्च में भी हिस्सा लिया था और हमारी ही सरकार का विरोध प्रदर्शन भी किया था. इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने पेगासस के मामले पर आईटी सेल को काउंटर करने की दिशा में तत्काल कदम उठाने के निर्देश दिए

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT