कोरोना: तीसरी लहर की आहट, बेंगलुरु में 6 दिन में 300 से ज्यादा बच्चे संक्रमित

भारत में कोरोना वायरस का कहर अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है. कोविड की सेकंड वेव अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुई थी कि तीसरी लहर ने दस्तक देना शुरू कर दिया है

  • 1457
  • 0

भारत में कोरोना वायरस का कहर अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है. कोविड की सेकंड वेव अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुई थी कि तीसरी लहर ने दस्तक देना शुरू कर दिया है. देश के कई राज्यों में एक तरफ जहां पाबंदियों को खोलना जारी है, तो कुछ जगहों पर नए मामलों की बढ़ती संख्या चिंता बढ़ा रही है. बेंगलुरु में कोविड की तीसरी लहार ने हमला कर दिया है. बेंगलुरु में पिछले 6 दिन में 300 से ज्यादा बच्चे कोरोना संक्रमित मिले है. जबकि राज्य में 23 अगस्त से कक्षा 9-12 तक के स्कूल भी खुलने वाले हैं. भारत पहले ही इस बात पर भविष्यवाणी कर चूका था कि कोविड की तीसरी लहर में बच्चे ज्यादा संक्रमित होंगे और आज बेंगलुरु में वही देखने को मिल रहा है 


ब्रुहट बेंगलुरु महानगर पालिका (BBMP) के आंकड़े के अनुसार पिछले 6 दिन में जो 300 बच्चे कोरोना से संक्रमित मिले हैं उनमें से 127 की उम्र 10 साल से कम है और उनका कोरोना टेस्ट 5 से 10 अगस्त के बीच किया गया था. इसके अलावा 174 कोरोना संक्रमित बच्चों की उम्र 10 से 19 साल के बीच है जो पिछले छह दिनों में पॉजिटिव मिले हैं. फ़िलहाल कोरोना ने बेंगलुरु पर हमला किया है इसके अलावा कराल में भी तीसरी लहार आ चूकी है.


आपको बता दें BBMP के मुख्य आयुक्त गोरव गुप्ता ने कहा कि हमें घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि पिछले छह दिनों में जितने बच्चे कोरोना संक्रमित हुए है, हमने उसके डेटा को पिछले साल आए कोरोना के मामलों से मिलाया है दोनों डेटा लगभग समान ही हैं. हम डेटा पर सावधानी से नजर बनाएं हुए हैं हम परिस्थति का आकलन कर रहे हैं और हम कोरोना के तीसरी लहर के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. हम खासकर बच्चों पर इस दौरान ध्यान दे रहे हैं. हमारे भारत में बच्चे कोरोना की चपेट में तब आ रहे हैं. जब देश में बच्चों के लिए वैक्सीन तक नहीं है.

LEAVE A REPLY

POST COMMENT