आवारा कुत्तों का आतंक है जारी, ग्यारह साल के बच्चे की नोंच-नोंच कर ली जान

आवारा कुत्ते के हमले का मामला अब बढ़ता ही चला जा रहा है। कन्नूर जिले के मुजप्पिलंगड कस्बे में एक आवारा कुत्ते के हमले के संदिग्ध मामले में एक ग्यारह साल के लड़के की मौत हो गई। पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए रखा है।

  • 218
  • 0

आवारा कुत्ते के हमले का मामला अब बढ़ता ही चला जा रहा है। कन्नूर जिले के मुजप्पिलंगड कस्बे में एक आवारा कुत्ते के हमले के संदिग्ध मामले में एक ग्यारह साल के लड़के की मौत हो गई। पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए रखा है। साथ ही शिकायत दर्ज कर ली है। एडक्कड़ पुलिस के मुताबिक, 11 वर्षीय निहाल रविवार की शाम को अपने घर से खेलने के लिए निकला, लेकिन काफी समय बाद भी वह घर नहीं लौटा। इसके बाद परिजन परेशान हो गए और स्थानीय लोगों के साथ मिलकर उसकी तलाश शुरू कर दी।

एक पुलिस अधिकारी ने अपनी बात रखते हुए कहा कि इलाके में कुछ देर तलाश करने के बाद रात करीब आठ बजे मुजप्पिलंगड कस्बे में निहाल का शव मिला। इस मामले में अधिकारी ने कहा, "बच्चे के शरीर पर चोट के कई निशान थे, जो किसी जानवर के काटने से लग रहे थे।"अधिकारी ने कहा, "वह बेहोश था और उसे अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।" उन्होंने कहा कि शव को मोर्चरी में रखवा दिया गया है। पुलिस ने आगे की जांच शुरू कर दी है।

कुत्तों की घटना ने लोगों को किया परेशान

पिछले कुछ वर्षों में, देश में इसी तरह के कुत्तों के हमले की घटनाओं में अचानक वृद्धि देखी गई है, यहां तक कि पीड़ितों की मौत भी हुई है। इसी साल मई में मेरठ शहर में अपने घर के बाहर खेल रही 9 साल की बच्ची को सांड ने एक गड्ढे में गिरा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT