गंभीर बिमारी का संकेत है लो ब्लड प्रेशर, समय रहते दें इन लक्ष्णों पर खास ध्यान

लो ब्लड प्रेशर को आप हल्के में न लें क्योंकि अगर आपका ब्लड प्रेशर बहुत कम है तो इससे हार्ट अटैक जैसी खतरनाक बिमारी भी पैदा हो सकती है। ऐसें में आइए हम आपको बताते है कि अखिर लो ब्लड प्रेशर होता क्या है?

  • 2208
  • 0

हमारे शरीर में उत्पन्न होने वाले ऐसे कई रोग होते है  जिनको हम ये सोचकर नज़र अंदाज कर देते हैं कि ये कोई नॉर्मल बीमारी होगी। ऐसी ही एक बीमारी है लो ब्लड प्रेशर/ निम्न रक्तचाप। वही आप लो ब्लड प्रेशर को हल्के में न लें क्योंकि अगर आपका ब्लड प्रेशर बहुत कम है तो इससे हार्ट अटैक जैसी खतरनाक बिमारी भी पैदा हो सकती है। वही दुनिया में बहुत बड़ी संख्या में लोग लो ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझते नजर आते हैं। यही नहीं  हमें ये बीमारी इतनी नॉर्मल लगती है कि अक्सर इसके लक्षणों के बारे में किसी को नहीं पता चल पाता है और इसे हम  बहुत सी नॉर्मल चीजों से जोड़ लेते हैं। जो आपकी  हेल्थ पर ही नहीं बल्कि लाइफ को भी खतरे में डाल सकता है।

ऐसें में आइए हम आपको बताते है कि अखिर लो ब्लड प्रेशर होता क्या है?

लो ब्लड प्रेशर में कभी-कभी आप खुद को थका हुआ या चक्कर आना महसूस कर सकते है।वही  किसी भी व्यक्ति में ब्लड प्रेशर की सामान्य मात्रा 120/80 होनी चाहिए। जब किसी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर 90/60 से नीचे चला जाता है, तो इस स्थिति को लो बीपी या हाइपोटेंशन कहा जाता है। वही कभी  व्यक्ति की ब्लड प्रेशर की रीडिंग अगर इस सामान्य मात्रा से कम  हो जाए तो उसे लो ब्लड प्रेशर की श्रेणी में गिना जाता है। ऐसा हर आयु के इंसान को किसी भी कारण से हो सकते हैं जैसे शरीर में पानी की कमी, दवाई का असर, सर्जरी या गंभीर चोट, जेनेटिक, स्ट्रेस लेना, ड्रग्स का सेवन, खान पान की बुरी आदतें, ज्यादा समय तक भूखा रहना या अनियमित खान पान आदि।


लो ब्लड प्रेशर के लक्षण 

- दुर्बलता

- बेहोशी

- सिर चकराना

- थकान

- जी मिचलाना

- ध्यान केंद्रित करने में परेशानी

- साफ दिखाई देना

- रूखी त्वचा

- डिप्रेशन

- सांसें तेज होना

लो ब्लड प्रेशर का कारण 

अगर आपको हेल्थ से जुड़ी कुछ अन्य समस्याएं जैसे डायबिटीज, थायरॉयड, एडिसंस डिसीज आदि हैं तो आप लो ब्लड प्रेशर के मरीज हो सकते है इसके अलावा चक्कर आने से, डेंगू, किसी प्रकार का टेंशन, शाॅक लगने, डर जाने, इंफेक्शन आदि होने पर भी यह समस्या हो सकती है। वही ब्लड प्रेशर  उम्र के साथ कम हो जाता है और कुछ लोगों में आनुवंशिक कारणों से स्वाभाविक रूप से निम्न रक्तचाप होता है।

लो ब्लड प्रेशर के अस्थायी कारण

- भोजन

- तनाव

-  बेड रेस्ट

- गर्भावस्था


लो ब्लड प्रेशर के अधिक गंभीर या स्थायी कारण

1. पोषक तत्वों की कमी: इनमें विटामिन बी 12 या फोलिक एसिड शामिल हो सकते हैं।

2. न्यूरली मेडिएटेड हाइपोटेंशन: यह व्यक्ति को लंबे समय तक खड़े रहने के बाद ब्लड प्रेशर में गिरावट का कारण बनता है।

3. एंडोक्राइन प्रॉब्लम: ये शरीर के हार्मोन को प्रभावित करती हैं। जिसका उदाहरण हाइपोथायरायडिज्म है जिसे अंडरएक्टिव थायरॉयड के रूप में भी जाना जाता है।

4. हार्ट की समस्याएं: लो ब्लड प्रेशर हृदय शरीर के चारों ओर रक्त को कितनी प्रभावी रूप से धकेलता है।

5. सेप्टिक शॉक: यह एक गंभीर बैक्टीरिया संक्रमण के प्रति संभावित जीवन के लिए खतरा है।

ड्रग बनता है लो ब्लड प्रेशर का कारण

लो ब्लड प्रेशर कभी-कभी शराब के सेवन या कुछ दवाओं के उपयोग के परिणामस्वरूप हो सकता है जैसे:

- हाइपर्टेन्शन की दवाएं

- हार्ट  की दवाएं जैसे कि बीटा-ब्लॉकर्स

- एंटीडिप्रेसन्ट

- स्तंभन दोष की दवाएं 

- पार्किंसंस रोग की दवाईयों से

ईलाज

लो ब्लड प्रेशर जैसी समस्या होने पर व्यक्ति डॉक्टर के पास जाना चाहिए जिससे डॉक्टर सही समय पर इलाज करके उसको नाॅर्मल कर सकते है। इसके अलावा लो ब्लड प्रेशर होने पर व्यक्ति को दिन भर में अधिक पानी पीना चाहिए। शराब से परहेज करना चाहिए और हाई सोडियम युक्त फूड्स का सेवन करना चाहिए।

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT