अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर लगाया आरोप, बोले जानबूझकर पेपर हो रहे हैं लीक

उत्तर प्रदेश में पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द करने का आदेश योगी सरकार की तरफ से दे दिया गया है, इतना ही नहीं 6 महीने के अंदर परीक्षा दोबारा कराने के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं।

अखिलेश यादव
  • 58
  • 0

उत्तर प्रदेश में पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द करने का आदेश योगी सरकार की तरफ से दे दिया गया है, इतना ही नहीं 6 महीने के अंदर परीक्षा दोबारा कराने के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। स्पेशल स्टाफ फोर्स की टीम पेपर लीक के मामले में जांच में लगी हुई है, सीएम योगी ने अपने कड़े शब्दों में यह कह दिया है कि, दोषियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसी दौरान समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सिपाही भर्ती परीक्षा को लेकर योगी सरकार पर सवाल उठाए हैं। अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार पर यह गंभीर आरोप लगाया है कि, सरकार जानबूझकर पेपर लीक कराती है और नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। 

अखिलेश ने योगी सरकार पर लगाए आरोप

बता दें कि, अखिलेश यादव का यह आरोप है कि, पहले से ही नौकरियां नहीं निकाली जा रही है और जब भर्ती निकल रही है, तो पेपर जानबूझकर लीक किया जा रहा है। इतना ही नहीं अखिलेश यादव का कहना है कि पहली बार प्रदेश में जब पेपर लीक हुआ था, यदि उस समय कार्रवाई हो गई होती, तो दोबारा पेपर लीक नहीं होता। इस समय सरकार केवल डायलॉग मार रही है, पुलिस भर्ती समेत तमाम परीक्षाओं की तैयारी कर रहे करीब 60 लाख छात्र परेशान है। उन्होंने यह भी कहा है कि पेपर छपने से लेकर, पेपर बंटवाने तक में सरकार के लोग शामिल हैं। सरकार की यह नियत है की नौकरी ना देनी पड़े, क्योंकि उसके लिए बजट नहीं है, नौकरी के नाम पर फॉर्म से एकत्रित रुपए का सरकार उपयोग कर रही है।

अग्निवीर पर भी उठे सवाल

अखिलेश यादव ने न केवल पुलिस भर्ती परीक्षा लीक होने पर योगी सरकार को अपना निशाना बनाया है, बल्कि अग्निवीर भर्ती पर भी सवाल उठाए हैं। अखिलेश यादव का कहना है कि, इस नौकरी को अस्थाई करने की क्या जरूरत थी बेरोजगारी से लोग परेशान हैं। वहीं चुनाव को लेकर अखिलेश यादव ने कहा है कि, विपक्षी राजनेताओं को ईडी, सीबीआई और अन्य एजेंसियों के जरिए जांच के बहाने घेरकर दबाव बनाने की रणनीति पर काम किया जा रहा है।

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT