बैंक लॉकर की जांच में CBI को नहीं मिला कुछ भी, मनीष सिसोदिया ने कहा- ये है सच की जीत

मनीष सिसोदिया के बैंक लॉकर की तलाश ली जा रही थी। सीबीआई की टीम लॉकर की तलाश करने में जुटी हुई थी, जिसमे से कुछ भी नहीं मिला।

  • 511
  • 0

दिल्ली के उप- मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की मुसीबत कम होती हुई दिखाई नहीं दे रही है। आज वो अपनी पत्नी संग घर से निकल और गाजियाबाद के वसुंधरा सेक्टर 4 की पंजाब नेशनल बैंक की शाखा में जा पहुंचे हैं। यहां पर मनीष सिसोदिया के बैंक लॉकर की तलाश ली जा रही थी। सीबीआई की टीम लॉकर की तलाश करने में जुटी हुई थी। अपनी कार्रवाई करने के लिए उन्होंने बैंक का दरवाजा तक बंद कर दिया था। ताकि कोई न तो अंदर आ सकें और न ही कोई बाहर जा सकें। ये सारा मामला दिल्ली में कथित शराब घोटाले से जुड़ा बताया जा रहा है। वहीं, मनीष सिसोदिया ने हाल ही में इस बात की जानकारी की दी है कि उनके लॉकर में से कुछ भी नहीं मिला है, सच की जीत हुई है। 


वहीं, इस मामले में 19 अगस्त के दिन मनीष सिसोदिया के घर 14 घंटे तक तलाशी हुई थी। उनके घर से कुछ दस्तावेज और डिवाइस सीबीआई ने अपने कब्जे में लिए थे। इतना ही नहीं उनके लॉकर को भी सीज कर दिया गया था। आज जाकर उसे खोला गया है। खुद सिसोदिया ने इस बात की जानकारी ट्वीट करते हुए दी थी कि सीबीआई की टीम अब लॉकर की जांच करने जा रही है।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली के एलजी वीके सक्सेना की सिफारिश के आधार पर ही सीबीआई ने कथित शराब घोटले को लेकर केस दर्ज किया है। इसमें उन्होंने दिल्ली के उप मुख्यमंत्री को आरोपी बनाया है। ऐसा इसीलिए क्योंकि वो दिल्ली के आबकारी मंत्री भी है। दिल्ली की नई शराब नीति में कई तरह की गड़बड़ी के आरोप लगाए गए हैं।

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT