55 फीट के बोरवेल में गिरा मासूम, 3 दिन से प्रशासन का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, सलामती के लिए हो रही पूजा अर्चना

बैतूल में 8 साल के बच्चे तन्मय को बचाने के खातिर पिछले 3 दिन से प्रशासन ने युद्ध स्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी रखा है. हालांकि, अब तक तन्मय को बोरवेल से निकालने में कामयाबी नहीं मिली है.

  • 582
  • 0

मध्यप्रदेश के बैतूल में 8 साल का बच्चा तन्मय 55 फिट गहरे बोरबेल में  गिरगया है. तन्मय को बचाने के लिए तीन दिन से रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हुई है. मासूम तन्मय के सलामत होने के लिए प्रार्थना की जा रही है. बोरवेल के पास खोदे गए 44 फीट गड्ढे की खुदाई हो चुकी है.अब बोरवेल की तरफ एनडीआरएफ और एसडीआरएफ सुरंग बनाने में जुटी है. यह हादसा 6 दिसंबर को 5 बजे हुआ उस वक्त तन्मय खेलते खेलते बोरबेल के पास पहुंच गया और अचानक बोरबेल में गिर गया था. 

युद्ध स्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी 

बता दें कि बैतूल में 8 साल के बच्चे तन्मय को बचाने के खातिर पिछले 3 दिन से प्रशासन ने युद्ध स्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी रखा है. हालांकि, अब तक तन्मय को बोरवेल से निकालने में कामयाबी नहीं मिली है. मगर, प्रशासन को उम्मीद है कि अगले कुछ घंटे में राहत-बचाव कार्य पूरा हो जाएगा.

बोरबेल की तरफ सुरंग बनाने का काम जारी

मालूम हो कि बोरवेल की तरफ 10-11 फीट की सुरंग बनाने का काम जारी है. एसडीआरएफ के कमांडर ने बताया कि लगभग 4 से 5 घंटे सुरंग बनाने में लगेंगे. हैमर की मदद से यह सुरंग बनाई जा रही है. नीचे लाइट की व्यवस्था और बेहतर की जा रही है.

एडीएम श्यामेंद्र जायसवाल का बयान 

एडीएम श्यामेंद्र जायसवाल ने कहा कि मासूम तन्मय बोरवेल में करीब 38 फीट नीचे फंसा है. एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के 125 से ज्यादा कर्मी मांडवी में रेस्क्यू में लगे हुए हैं. मासूम के माता-पिता उसके सुरक्षित होने के लिए पूजा कर रहे हैं.

सलामती के लिए दुआओं का दौर

तन्मय की सलामती के लिए दुआओं का दौर भी चल रहा है. पूरे गांव मे लोग पूजा-अर्चना कर उसकी सलामती की प्रार्थना कर रहे हैं. मासूम के मां-बाप उसकी सलामती के लिए घर में पूजा-प्रार्थना कर रहे हैं. तन्मय के साथ पढ़ने वाले स्टूडेंट्स ने मांडवी के गायत्री मंदिर में गायत्री मंत्र का जाप किया.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT