उत्तराखंड में हिमस्खलन की चपेट में आया नौसेना का दल, छह लापता

उत्तराखंड में नौसेना का एक दल हिमस्खलन की चपेट में आ गया है. घटना त्रिशूल पर्वत पर हुई. नौसेना की यह टीम चढ़ाई के लिए यहां गई थी.

  • 1151
  • 0

उत्तराखंड में नौसेना का एक दल हिमस्खलन की चपेट में आ गया है. घटना त्रिशूल पर्वत पर हुई. नौसेना की यह टीम चढ़ाई के लिए यहां गई थी. पांच पर्वतारोही और एक कुली लापता बताए जा रहे हैं. प्रारंभिक जानकारी के अनुसार त्रिशूल पर्वत की चढ़ाई के दौरान हिमस्खलन के कारण यह हादसा हुआ. कर्नल अमित बिष्ट के नेतृत्व में नेहरू पर्वतारोहण संस्थान से राहत एवं बचाव दल त्रिशूल पीक के लिए रवाना हो गया है.बताया जा रहा है कि नौसेना की 20 सदस्यीय टीम करीब 15 दिन पहले 7120 मीटर ऊंची त्रिशूल चोटी पर चढ़ने गई थी. शुक्रवार की सुबह जब टीम आगे बढ़ी तो हिमस्खलन की चपेट में आ गई. घटना शुक्रवार सुबह करीब पांच बजे की है. हिमस्खलन की चपेट में आने से नौसेना के पांच पर्वतारोही और एक कुली लापता हैं. 

भारतीय नौसेना का कहना है कि हिमस्खलन में लापता पर्वतारोही और एक कुली को खोजने के लिए बचाव अभियान शुरू किया गया है. सेना, वायु सेना और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल के बचाव दल और हेलीकॉप्टर ऑपरेशन में शामिल हैं. त्रिशूल पर्वत कुमाऊं के बागेश्वर जिले में चमोली जिले की सीमा पर स्थित है. तीन चोटियों का समूह होने के कारण इसे त्रिशूल कहते हैं. पर्वतारोहण दल इस चोटी पर चढ़ने के लिए चमोली जिले के जोशीमठ और घाट से जाते हैं.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT