यूपी के आगामी सत्र का बजट तैयार, किसान- कोरोना पर भी वित्त मंत्री ने की बात

बुधवार को पेश किया गया साल भर के बजट पर यह खबर आ रही है कि इसमें संकल्प पत्र में किए गए वादों को पूरा करने पर ज्यादा जोर दिया गया है.

  • 604
  • 0

यूपी बजट आ चुका है और राज्य के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने आगामी सत्र 2022-2023 का बजट पेश कर दिया है. बजट पेशी के दौरान वित्त मंत्री ने कोरोना और किसानों का भी मुद्दा उठाया.

ये भी पढ़ें:- भारत का दैनिक कोरोना संक्रमण 5 दिनों के बाद 2,000 अंक से नीचे गिरा

पिछले साल के बजट की तुलना में इस साल के बजट में कुछ इजाफा किया गया है. 2022-2023 का पूरा बजट 6.10 लाख करोड़ रुपए का है वहीं 2021-2022 का बजट 5,50,270.78 करोड़ रुपए था. 

ये भी पढ़ें:- इस विशेष योग में मनाई जा रही अपरा एकादशी, आज इन 4 कामों को भूल से भी ना करें

बुधवार को पेश किया गया साल भर के बजट पर यह खबर आ रही है कि इसमें संकल्प पत्र में किए गए वादों को पूरा करने पर ज्यादा जोर दिया गया है.

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने इस दौरान कहा कि चिकित्सा सुविधाओं में सुधार किया गया है. सभी जिलों में उत्पादों को बढ़ावा दिया गया है. फिल्म सिटी की स्थापना का भी फैसला लिया गया है. इसके अलावा मुफ्त गैस कनेक्शन भी दिए गए. गरीब लोगों को फ्री राशन और किसानों को आर्थिक सहायता दी जा रही है. 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मेरठ-प्रयागराज एक्सप्रेस-वे को पूरा करने के लिए 695 करोड़ रुपए का बजट तैयार किया गया है. इसके अलावा 18500 करोड़ रुपए का बजट पीडब्लूडी की सड़कों के लिए बनाया गया है. साल भर में आने वाली बाढ़ के लिए 2700 करोड़ का बजट रखा गया है. 

इसके अलावा गोरखपुर और वाराणसी में मेट्रो शुरु करने के लिए 100 करोड़ का बजट तैयार किया गया है. इसके बाद पुलिस आवासीय भवन के लिए 800 करोड़, अनावासीय भवनों के लिए 800 करोड़  रुपए का बजट बनाया गया है. 

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT