शनि देव को ऐसे करें प्रसन्न, कुंडली का दोष भी होगा दूर

आज शनिवार है यानी शनिदेव का दिन इस दिन पूरे विधि विधान से पूजा करने पर शनिदेव प्रसन्न रहते हैं.

  • 715
  • 0

देवों में देव शनि देव को न्याय का देवता माना जाता है. व्यक्ति जो भी काम करता है उसके अनुसार शनिदेव उन्हें फल देते हैं वहीं कुछ ऐसे उपाय भी हैं. जिनसे हम शनिदेव की बुरी नजर से बच सकते हैं.

क्या कहता है हिंदू धर्म

हिंदू धर्म का महत्व शुरू से ही रहा है वही जिस व्यक्ति की कुंडली में शनि देव का अशुभ स्थान होता है. उन्हें अनेकों प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. वहीं परेशानियों से निजात पाने के लिए लोग न जाने क्या-क्या उपाय करते हैं. मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार की एक अलग ही मान्यता है जिसमें शनि देव की पूजा करने से देव प्रसन्न होकर अपने भक्तों पर कृपा करते हैं और उनके सभी बिगड़े काम आज के दिन बन जाते हैं.

यह भी पढ़ें : महिमा चौधरी को हुआ ब्रेस्ट कैंसर, अनुपम खेर ने फैंस के साथ शेयर की जानकारी

हनुमान जी और शनि यंत्र की पूजा का फल

शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करना विशेष होता है. क्युकी हनुमान जी की पूजा करने से शनि देव प्रसन्न होते है. यदि आपके ऊपर शनि की दृष्टि है, तो हनुमान जी की पूजा जरूर करें. इस दिन हनुमान जी की पूजा के लिए नीले रंग के फूल उपयोग मे लाएं. इतना ही नही हनुमान जी की पूजा के साथ साथ शनि यंत्र की पूजा भी जरूरी है इससे शनि देव की दृष्टि का प्रभाव कम हो जाता है. इस दिन शनि यंत्र की पूजा विधि विधान से करें और उसके अगले दिन से ही रोजाना शनि यंत्र की पूजा करें और सरसों के तेल से दीपक जलाएं. शनिवार के एक दिन पहले ही काले चने तीन बर्तनों में भिगो दें. फिर अगले दिन शनिवार को उसे अच्छी तरह धो कर सरसों के तेल से छौंक दें. साथ ही पूजा के बाद इस चने को भैंस को खिला दें.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT