सूरत कोर्ट फैसले को आज चुनौती देंगे राहुल गांधी, 3 सीएम के साथ कोर्ट पहुंचेंगे राहुल गांधी

इस दौरान राहुल गांधी के साथ उनकी बहन प्रियंका गांधी के साथ ही कांग्रेस के तीनों मुख्यमंत्री राजस्थान के अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल और हिमाचल के सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू मौजूद रहेंगे.

  • 1234
  • 0

कांग्रेस नेता राहुल गांधी पीएम मोदी सरनेम मानहानी मामले में सूरत कोर्ट से मिली दो साल की सजा को आज चुनौती देंगे. राहुल गांधी गांधी आज गुजरात जाएंगे और अपने सजा के खिलाफ सेशन कोर्ट में अपील दायर करेंगे. राहुल गांधी के साथ कांग्रेस के दिग्गज नेता भी गुजरात जाएंगे. राहुल गांधी के सूरत आने से पहले यहां एयरपोर्ट से लेकर कोर्ट तक का रास्ता गांधी परिवार के पोस्टर्स से पटा पड़ा है.

 कोर्ट परिसर पूरी तरह से छावनी में तब्दील 

कांग्रेस के इस कदम को एक तरह के शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है. इस बीच कोर्ट के बाहर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है और कोर्ट परिसर को पूरी तरह से छावनी में तब्दील कर दिया गया है. राहुल गांधी के साथ उनकी बहन प्रियंका गांधी के साथ ही कांग्रेस के तीनों मुख्यमंत्री राजस्थान के अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल और हिमाचल के सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू मौजूद रहेंगे. वहीं भाजपा इसको लेकर कांग्रेस पर हमलावर है. 

भाजपा ने साधा निशाना

भाजपा के प्रवक्ता संवित पात्रा ने राहुल गांधी की इस अपील को नौटंकी करार दिया है. संबित ने सोमवार सुबह एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "राहुल गांधी, उनके परिवार के लोग और कुछ सीएम जैसे अशोक गहलोत, भूपेश बघेल आज सूरत जा रहे हैं. ये लोग वहां अपील के नाम पर हुड़ंदग करने वाले हैं. रास्ता रोको, नौटंकी करो... इस प्रकार का माहौल गुजरात में कांग्रेस और राहुल गांधी का परिवार बनाने वाला है. मुझे से समझ नहीं आ रहा है कि हंगामा बरपाने की जरूरत क्या है." 

बीजेपी नेता पात्रा यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि, हम कुछ प्रश्न राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी से पूछना चाहते हैं- राहुल जी, क्या यह सत्य नहीं है कि आपने ओबीसी समाज को गाली दी और आज आप पूरे तामझाम के साथ सूरत जा रहे हैं. क्या ये आपके द्वारा न्यायपालिका पर दबाव डालने का प्रयास नहीं है?  आज राहुल गांधी सूरत जाकर क्या ओबीसी समाज के जख्मों पर नमक लगाने का काम नहीं कर रहे हैं? राहुल ने कोर्ट को कहा कि- मैं राहुल हूं, मैं माफी नहीं मांगूंगा. ये इतना घमंड क्यों राहुल जी? दो R कभी साथ नहीं चल सकते… Rahul और Responsibility.

मोदी सरनेम मामले में हुई सजा 

बता दें कि 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी सरनेम वाले बयान को लेकर सूरत कोर्ट ने राहुल गांधी को 23 मार्च को 2 साल की सजा सुनाई थी. हालांकि, कोर्ट ने सजा के सुनाने के तुरंत बाद जमानत देते हुए 30 दिनों के लिए स्थगित कर दिया था. यानी अगर राहुल गांधी को एक महिने के भीतर उपरी कोर्ट से राहत नहीं मिलती है तो उन्हें जेल जाना होगा.  


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT