गुजरात में बारिश से बाढ़, लोगों की मदद के लिए भेजी गई एनडीआरएफ की टीम

गुजरात इन दिनों लगातार बारिश से जूझ रहा है जिसके चलते बाढ़ के आसार बढ़ गए है. ऐसे में बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों की मदद के लिए एनडीआरएफ की टीम भेजी गई है.

  • 2112
  • 0

गुजरात इन दिनों लगातार बारिश से जूझ रहा है. जामनगर और राजकोट में बारिश ने कहर बरपाया है. हालात यह हो गए हैं कि जामनगर के कई गांवों में पानी भर गया है. जलभराव के कारण कई गांवों का अन्य जगहों से संपर्क टूट गया है. राजकोट में भी यही स्थिति है. भारी बारिश के चलते राजकोट डीएम ने स्कूलों और कॉलेजों में एक दिन की छुट्टी घोषित कर दी है. बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों की मदद के लिए एनडीआरएफ की टीम भेजी गई है.

लगातार हो रही बारिश ने सड़कों को नदियों में बदल दिया है. लोगों के साथ-साथ भारी वाहनों की आवाजाही में भी काफी परेशानी होती है. कई गांव तबाह हो जाने से वहां के लोग एक जगह फंस गए हैं. प्रशासन उनकी मदद के लिए हर संभव उपाय कर रहा है. प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव दल भेजे गए हैं.

अगले 24 घंटों में तटीय इलाकों में बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग के अनुसार गुजरात के तटीय इलाकों खासकर जामनगर, जुमागढ़, पोरबंदर, द्वारका, ओखा, राजकोट के कई हिस्सों में हवा की गति 40-50 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की संभावना है. इसके साथ ही अगले 24 घंटों में इन इलाकों में मध्यम से भारी बारिश की भी संभावना जताई गई है. मौसम विभाग के मुताबिक करीब एक हफ्ते तक इन जगहों पर बारिश की ऐसी ही स्थिति बनी रह सकती है. हालांकि, 13 और 17 सितंबर को बारिश से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है. मौसम विभाग ने पूर्वी गुजरात और उसके आसपास के इलाकों में भी मध्यम बारिश की भविष्यवाणी की है. इस दौरान अहमदाबाद, बड़ौदा, गांधीनगर, सूरत, वलसाड, महुआ और भावनगर के कुछ हिस्सों में बारिश हो सकती है.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT