पैंगोंग और गलवान इलाकों का जवानों किया सर्वेक्षण, हाई दिखा जोश

लद्दाख में एलएसी के पास भारतीय सेना की गतिविधियां बढ़ गई हैं. लद्दाख की गलवान और पेंगोंगल झील में भारतीय सेना एक्टिव मोड में दिख रही है.

  • 318
  • 0

दिल्ली में जी-20 सम्मेलन का दौर चल रहा है. बीते दिनों भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर की मुलाकात चीनी विदेश मंत्री से हुई थी. एस जयशंकर पहले भी चीन (China) के साथ संबंधों को 'असमान्य' बता चुके हैं. इस बीच लद्दाख में एलएसी के पास भारतीय सेना की गतिविधियां बढ़ गई हैं. लद्दाख की गलवान और पेंगोंगल झील में भारतीय सेना एक्टिव मोड में दिख रही है. चीन की हर हरकत पर भारत की नजर है. गलवान घाटी के पास जवानों की तैनाती है. LAC पर भारत के जवान मुस्तैद हैं.

सेना के जवानों ने किया सर्वेक्षण

इस दौरान सेना के जवानों एलएसी के आसपास के इलाकों का खच्चरों के जरीए सर्वेक्षण किया. इसके अलावा पैंगोंग झील पर हाफ मैराथन और क्रिकेट खेला. बता दें कि पैंगोग और गलवान वो इलाका है जहां जहां साल 2020 में भारतीय और चीनी सेना के बीच भिड़ंत देखने को मिली थी. इसके बाद से दोनों देशों के बीच काफी तनाव पैदा हो गया था.

14 कॉर्प्स ने किया ट्वीट 

पूर्वी लद्दाख में  क्रिकेट खेल रहे भारतीय सेना के जवानों की तस्वीर को 14 कॉर्प्स ने ट्वीट कर लिखा- पटियाला ब्रिगेड, त्रिशूल डिवीजन द्वारा शून्य से कम तापमान के बीच अत्यधिक ऊंचाई वाले क्षेत्र में पूरे उत्साह और जोश के साथ क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया. हम असंभव को संभव बनाते हैं.

बता दें कि जिस स्थान पर भारतीय सेना क्रिकेट खेल रही है वह स्थान भारत और चीन की ओर से आमने-सामने के टकराव से बचने के लिए बनाए गए बफर जोन से अच्छी खासी दूरी पर है. दोनों देशों की सेनाओं से टकराव से बचने के लिए अपने अपने पोजिशन से 1.5 किलोमीटर पीछे हटने का फैसला किया और ये स्थान बफर जोन में तब्दील हो गया है.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT