Assam दिल दहलाने वाला वीडियो: जोरहाट में नाव हादसा, रेस्कयू जारी, 50 से ज्यादा लोग लापता

इस दुर्घटना में थल सेना और वायुसेना भी बचाव कार्यों में मदद कर रही है. ड्यूटी में लापरवाही के लिए आईडब्ल्यूटी विभाग के तीन अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया है. असम के सीएम आज घटनास्थल पर पहुचेंगे.

  • 1429
  • 0

असम के जोरहाट स्थित निमती घाट पर ब्रम्हपुत्र नदी में एक नाव और एक एस्टीम बोट के बीच जोरदार टक्कर हो गई, जिसकी वजह से नाव पलट गई और कई लोग घायल हो गए. नाव के पलटने से उसपर सवार लगभग 120 लोग पानी में गिर गए. सूत्रों से पता चला है कि 42 से ज्यादा लोगों को बचा लिया गया है, 1 महिला की जान चली गई है और अभी भी लगभग 70 से ज्यादा लोग लापता हैं, जिसका रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. मौके पर एनडीआरएफ और एसडीआरएफ दल भी पहुंचा हुआ है. इस दुर्घटना में थल सेना और वायुसेना भी बचाव कार्यों में मदद कर रही है. ड्यूटी में लापरवाही के लिए आईडब्ल्यूटी विभाग के तीन अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया है. असम के सीएम आज घटनास्थल पर पहुचेंगे. 


अधिकारियों ने बताया कि टक्कर तब हुई जब निजी नौका ''माँ कमला'' निमती घाट से माजुली की तरफ जा रही थी और सरकारी स्वामित्व वाली नौका ''त्रिपकाई'' माजुली से निमती घाट के तरफ आ रही थी. आईडब्ल्यूटी विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि नौका पलटकर डूब गई. नौका के टकराने से उसका संतुलन बिगड़ गया जिसके बाद लोग चीखने-चिल्लाने लगे और पूरी तरह से डर गए. बैलेंस बिगड़ने के बाद लोगों ने पानी में ना गिरने के लाख प्रयास किये लेकिन किनारा दूर था और बीच नदी में उन्हें कोई रास्ता नजर आ रहा था तो उनका प्रयास असफल रहा.

इस दुर्घटना की जानकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने फ़ोन पर असम के सी एम हिमांशु विश्व शर्मा से लिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी नाव हादसे में लापता लोगों को लेकर चिंता व्यक्त की. उन्होंने कहा कि घटना की खबर से आहत हूं. राहत और बचाव कार्यों को तेज गति से आगे बढ़ाया जाए. यात्रियों को बचाने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं. इस बीच गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी घटना पर दुख जताया है.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT