सूर्य ग्रहण के दिन रहना होगा सावधान, जा सकती है आपकी जान

इस वर्ष 10 जून की तिथि बहुत महत्वपूर्ण है

  • 37663
  • 0

इस वर्ष 10 जून की तिथि बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि वट अमावस्या व्रत के साथ-साथ वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण भी इसी दिन लगेगा. इतना ही नहीं 10 जून को शनि जयंती भी है, जिससे इस सूर्य ग्रहण के कारण सूर्य और शनि के विशेष योग भी बन रहे हैं. हालांकि यह ग्रहण भारत में आंशिक रूप से रहेगा, जिससे यहां सूतक मान्य नहीं होगा, लेकिन कई राशियों पर इसका अनुकूल और प्रतिकूल प्रभाव होना तय है. जानकार बता रहे हैं कि आज के दिन कई लोगों को शारीरिक कष्ट भी होने के संभावना है. लोगों की जान भी जा सकती है. 

ये भी पढ़े:रिलीज हुई मार्वेल की नई सीरीज LOKI

{{img_contest_box_1}}

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार वट सावित्री अमावस्या 10 जून (गुरुवार) को होगी. इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं और लंबी उम्र की कामना करती हैं. इस दिन शनि जयंती भी है और इस दिन साल का पहला सूर्य ग्रहण भी लग रहा है. शास्त्री के अनुसार यह ग्रहण 148 साल बाद शनि जयंती पर पड़ रहा है. शनि जयंती के दिन सूर्य ग्रहण के कारण सूर्य और शनि की अद्भुत युति होगी.  यह ग्रहण भारत में आंशिक रूप से भी नहीं दिखाई देगा, जिससे ग्रहण का सूतक भारत में मान्य नहीं होगा.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पहला सूर्य ग्रहण 26 मई 1973 को शनि जयंती के दिन हुआ था. यह ग्रहण वृष और मृगशिरा नक्षत्र में लगने वाला है, मृगशिरा नक्षत्र का स्वामी मंगल है. ग्रहण का समय गुरुवार, 10 जून को दोपहर 1.42 बजे शुरू होगा और शाम 6.41 बजे समाप्त होगा, जिसकी कुल अवधि 5 घंटे होगी. ग्रहण काल ​​के दौरान अपने इष्ट देव की पूजा करना बहुत शुभ माना जाता है.

ये भी पढ़े:मऊ: माफिया मुख्तार अंसारी की 24 करोड़ की संपत्ति कुर्क

इन राशियों के लोग रहें सावधान

वृष राशि: इस राशि के लोगों को अपना खास ख्याल रखना चाहिए। बीमार या घायल होने की संभावना

मिथुन : इस राशि के जातक को सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी.

मकर : इस राशि के लोगों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

मेष : नौकरी व्यवसाय के लिए समय ठीक नहीं है. इस दौरान कोई नया काम न करना आपको परेशानी में डाल सकता है.

{{read_more}}


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT