भगवान विष्णु की पूजा से पूरी होंगी सभी मनोकामनाएं, जानिए विधि

गुरुवार के दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से वे शीघ्र ही प्रसन्न होते है. साथ ही सुखों की प्राप्ति भी होगी.

  • 1086
  • 0

गुरुवार के दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से वे शीघ्र ही प्रसन्न होते हैं और उनकी साधना-आराधना से साधक को जीवन से जुड़े सभी सुखों की प्राप्ति होती है. भगवान विष्णु की साधना से साधक के पूर्वजन्म और इस जन्म दोनों के पाप कट जाते है.

विष्णु जी होंगे प्रसन्न
सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु की साधना वैसे तो आप कभी भी कर सकते हैं, लेकिन गुरुवार का दिन उनकी पूजा के लिए अत्यंत ही मंगलकारी माना गया है. जीवन से जुड़े दु:खों को दूर करने और सुख-समृद्धि की प्राप्ति के लिए भगवान विष्णु की पूजा विधि से आप उन्हें प्रसन्न कर सकते है.

विष्णु पूजन विधि
भगवान विष्णु की कृपा पाने के लिए प्रात: काल सूर्योदय से पहले उठने का प्रयास करें और स्नान-ध्यान के बाद पीले रंग के वस्त्र धारण करें. इसके बाद उगते हुए सूर्य नारायण को जल में हल्दी मिलाकर अघ्र्य दें. इसके बाद भगवान विष्णु की पूजा में उनकी मूर्ति को स्नान कराने के बाद उन्हें पीले रंग के वस्त्र पहनाएं और पूजा में पीले रंग के फूल और प्रसाद में पीले रंग की मिठाई चढ़ाएं. भगवान विष्णु की पूजा में हल्दी के तिलक का प्रयोग करें और और उसे प्रसाद स्वरूप अपने माथे पर भी लगाएं.

विष्णु पाठ भी है जरूरी
भगवान विष्णु की पूजा में वैसे तो आप उनके किसी भी सरल मंत्र जैसे ॐ नमो भगवते वासुदेवाय अथवा  ॐ नमो नारायण या फिर श्रीमन नारायण नारायण हरि-हरि का श्रद्धा और विश्वास के साथ जाप कर सकते है. लेकिन इनके अलावा यदि आप नारायण कवच, विष्णु सहस्त्रनाम और गजेंद्र मोक्ष इन तीनों में से किसी का पाठ कर सकते है.

नारायण की मां लक्ष्मी संग करें पूजन
यदि आर्थिक रूप से परेशान चल रहे हैं तो आपको भगवान विष्णु के साथ माता लक्ष्मी की पूजा अवश्य करनी चाहिए. भगवान विष्णु की पूजा में प्रयोग की जाने वाली हल्दी का प्रयोग आप मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए भी विशेष रूप से करें. धन की देवी मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए उन्हें पांच हल्दी की साबुत गांठें चढ़ाएं. उसके बाद अगले दिन उसे एक एक लाल कपड़े में लपेटकर अपने धन वाले स्थान पर रख ले.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT