Lok Sabha Election 2024: दिल्ली की सभी 7 सीटो पर कांग्रेस अकेले लड़ेगी चुनाव? अलका लांबा के बयान पर तकरार!

Alka Lamba Statement: कांग्रेस नेता अलका लांबा ने दिल्ली में लोकसभा चुनाव को लेकर बड़ा बयान दिया है. उनके बयान के बाद से विपक्षी एकता पर सवाल उठने लगे हैं.

कांग्रेस सांसद और राहुल गांधी
  • 192
  • 0

AICC Meeting in Delhi: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और राहुल गांधी ने बीते दिन यानी की बुधवार को दिल्ली कांग्रेस नेताओं से वन टू वन मुलाकात की. खरगे की इस मीटींग के बाद कांग्रेस नेता अलका लांबा ने बड़ा बयान दे दिया. लांबा के बयान के बाद से I.N.D.I.A. गठबंधन पर 'कंफ्यूजन' की स्थिति पैदा हो गई हैं.

7 सीटो पर तैयारी अभी से करनी है: लांबा 

दरअसल, कांग्रेस नेता अलका लांबा ने कांग्रेस की वन टू वन मीटिंग को लेकर कहा कि 'तीन घंटे तक चली बैठक में राहुल गांधी, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, के.सी. वेणुगोपाल और दीपक बाबरिया मौजूद थे. इस मीटिंग संगठन को मजबूत करने, आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी करने पर बात हुई. 7 महीने और 7 सीटें(दिल्ली लोकसभा) हैं. सभी सीटो पर हर नेता को आज से अभी से निकलना है, संगठन की तरफ से जिसको जो भी ज़िम्मेदारी दी जा रही है, उसे हम निभाएंगे. मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाना है.'

AAP ने पूछा सवाल 

वहीं, आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता प्रियंका कक्कड़ ने कहा कि अगर वे (कांग्रेस) दिल्ली में गठबंधन नहीं करते, तो INDIA गठबंधन में जाने का कोई मतलब नहीं है. यह समय की बर्बादी है. हमारी पार्टी का शीर्ष नेतृत्व तय करेगा कि INDIA गठबंधन की अगली बैठक में शामिल होना है या नहीं. 

सीट बंटवारे AAP के मंत्री का बयान

कांग्रेस द्वारा दिल्ली की सभी 7 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की खबरों पर AAP नेता और दिल्ली सरकार में मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कहा कि ऐसी बातें आती रहेंगी. जब I.N.D.I.A के घटक दल मिलकर बैठेंगे, जब सभी पार्टियों का शीर्ष नेतृत्व एक साथ बैठकर सीटों के बंटवारे पर चर्चा करेगा तब पता चलेगा कि किस पार्टी को कौन सी सीटें मिल रही हैं.

लांबा के बयान पर कांग्रेस ने दी सफाई 

वहीं, अलका लांबा के पर कांग्रेस ने सफाई दी है. AICC दिल्ली कांग्रेस प्रभारी दीपक बाबरिया ने कहा कि 'अलका लांबा एक प्रवक्ता हैं. लेकिन ऐसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात करने के लिए वह अधिकृत प्रवक्ता नहीं हैं. मैंने प्रभारी के तौर पर कहा है कि आज बैठक में ऐसी कोई चर्चा नहीं हुई. मैं अलका लांबा के बयान का खंडन करता हूं.'

बाबरिया ने आगे कहा कि 'बैठक ख़त्म होने के बाद मैंने साफ़ कहा कि बैठक में चुनाव या गठबंधन को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई. मैंने यह भी कहा कि INDIA गठबंधन की कोई भी चर्चा केवल मल्लिकार्जुन खरगे जी की उपस्थिति में होगी.'

I.N.D.I.A 26 दलों का गठबंधन 

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में होने में अभी 7-8 महीने का समय है. सत्ता रूढ़ पार्टी बीजेपी के खिलाफ कांग्रेस समेत 26 दलों में गठबंधन बनाया है. जिसका नाम INDIA रखा गया है. अलका लांबा के इस बयान के बाद से सियासी गलियारों में कई तरह की चर्चा होने लगी. 

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT