विष्णु सोलंकी पर टूटा दुखों का पहाड़, नवजात बेटी के बाद अब पिता ने छोड़ा साथ

बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन इस खिलाड़ी के साथ इसके बुरे समय में खड़ा रहा, और सोलंकी को घर लौटने के लिए कहा.

  • 739
  • 0

कटक के विकास क्रिकेट ग्राउंड पर विष्णु सोलंकी ने क्षेत्ररक्षण के शानदार प्रयास से एक चौका रोक दिया. जिसके बाद खिलाड़ी टीम के मैनेजर धर्मेंद्र अरोठे ने विष्णु को बड़ौदा ड्रेसिंग रूम में आने के लिए कहा. सोलंकी के वहां पहुंचते ही उन्हें खबर मिली कि उनके पिता का निधन हो गया है.

ये भी पढ़ें:- MP: बाइक को बचाने के चक्कर में 5 सेकंड में 7 बार पलटी बोलेरो, दो लोगों की मौत

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दस दिन पहले ही उसने अपने नवजात शिशु को खो दिया था. एक दिन की बच्ची को विष्णु ने हमेशा के लिए खो दिया था. जिसके बाद सोलंकी टीम से जुड़ते ही अपनी टीम के लिए शतक भी जड़े थे. 

ये भी पढ़ें:- महाशिवरात्रि 2022 उपवास नियम: क्या करें और क्या न करें का ध्यान रखें

बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन इस खिलाड़ी के साथ इसके बुरे समय में खड़ा रहा, और सोलंकी को घर लौटने के लिए कहा. जिसके बाद राज्य संघ के सचिव अजीत लेले ने सूचित किया कि “जब हमें उनके पिता की मृत्यु के बारे में पता चला, तो हमने टीम मैनेजर को सूचित किया. मैनेजर ने हमें बताया कि वह वहीं रुकेगा. इसने खेल और उनकी टीम के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को दिखाया, ”

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT