अगर नहीं सुधरें हालात तो 6 लाख केस रोज़ देखने को मिलेंगे

नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल की मानें तो आने वाले दिनों में भारत में हर दिन कोरोना के 6 लाख नए मामले सामने आ सकते हैं.

  • 1361
  • 0

हर गुजरते दिन के साथ 3 लाख से ज्यादा कोरोना वायरस संक्रमण के मामले और ऐसी भयावह स्थिति देखने को मिल रही है, जिससे देश भर में कोविड-19 के बढ़ते मरीजों के लिए रेमडेसिविर जैसी दवाईयोॆ समेत ऑक्सीजन की भारी किल्लत देखने में आ रही है. इस तस्वीर को देखकर कहा जा सकता है कि यह महज एक ट्रेलर है, पूरी फिल्म तो अभी बाकी है. नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल की मानें तो आने वाले दिनों में भारत में हर दिन कोरोना के 6 लाख नए मामले सामने आ सकते हैं. कोरोना महामारी को लेकर केंद्र सरकार की कोर टीम के सदस्य वीके पॉल ने सुझाव दिया है कि देश को अब प्लान बी पर काम करना चाहिए. प्लान बी के तहत हर दिन 6 लाख नए कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन तैयार रखने को कहा गया है. 

ये भी पढ़े:बिहार में 16 अस्‍पतालों ने जारी किया अलर्ट, सिर्फ 1 घंटे के लिए बची है ऑक्‍सीजन

बीते साल सितंबर में अंदाजा लग गया था आज की स्थिति का

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, सरकार ने कोरोना की पहली लहर यानी बीते साल सितंबर में भी बुनियादी ढांचे को सुधारने पर विचार किया था. उस समय विशेषज्ञों की टीम ने हर दिन 3 लाख तक नए केस सामने आने का अनुमान लगाया था. उस समय देश को 1.6 लाख आईसीयू बेड, 3.6 लाख नॉन-आईसीयू बेड की जरूरत बताई गई थी. एक्सपर्ट्स ने यह भी कहा था कि 75 फीसदी नॉन-आईसीयू बेड के साथ ऑक्सीजन मुहैया करवाने की भी सुविधा होनी चाहिए. उस वक्त विशेषज्ञों का लगाया गया अंदाजा आज बिल्कुल सही बैठ रहा है. ऐसे में सरकार को प्लान बी के तहत काम करने की तत्काल जरूरत है. 

अप्रैल के अंत तक आ सकते हैं 5 लाख नए केस हर रोज

बताते हैं कि नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल के अंतर्गत 'ऐम्पावर्ड ग्रुप ऑफ ऑफिसर्स' ने 10 दिन पहले ही स्वास्थ्य मंत्रालय सहित संबंधित प्रशासन को यह आगाह कर दिया था कि 20 अप्रैल तक देश में 3 लाख कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन सप्लाई की जरूरत होगी. उसी दौरान यह भी बताया गया था कि अप्रैल के आखिर तक भारत में एक दिन के अंदर आने वाले कोरोना मामले 5 लाख तक पहुंच सकते हैं.

ये भी पढ़े:ऑस्कर्स अवॉर्ड्स में फिल्म नोमैडलैंड की रही धूम, क्लोइ चाओ ने रचा शानदार इतिहास

भारत बना रहा नित नए कोरोना रिकॉर्ड

बता दें कि देश में हर दिन कोरोना के नए मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इसके साथ ही मौतों का आंकड़ा भी रिकॉर्ड बनाता जा रहा है. भारत में रविवार को एक दिन के अंदर कोरोना के रिकॉर्ड 3 लाख 54 हजार 531 नए मामले मिले. यह किसी एक देश में एक दिन में मिले नए कोरोना संक्रमितों की विश्वभर में सर्वाधिक संख्या है. इस दौरान संक्रमण से रिकॉर्ड 2,806 लोगों की मौत हो गई. देश में एक दिन में महामारी से जान गंवाने वालों की सर्वाधिक संख्या है.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT