मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना साजिद रशीदी ने बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर को दी खुली चुनौती

ऑल इंडिया इमाम एसोसिएशन के अध्यक्ष मौलाना साजिद रशीदी ने आगे कहा कि आपके पास ये ट्रिक है, चमत्कार नहीं है. ये ट्रिक बहुत लोग करते हैं. आपका भी यही काम है, इसके अलावा कोई काम नहीं है.

  • 504
  • 0

ऑल इंडिया इमाम एसोसिएशन के अध्यक्ष मौलाना साजिद रशीदी अपने विवादित  बयानों के चलते समाचार की सुर्खियों में बने रहते हैं. सोमनाथ मंदिर पर विवादित बयान देने के बाद अब बागेश्वरधाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र शास्त्री पर को खुली चुनौती दे दी है. मौलाना साजिद ने रशीदी ने कहा कि धीरेंद्र शास्त्री को पांखडी बताया है और उनको मानने वालों को  अंधभक्त बता दिया है. इतना ही नहीं साजिद रशीदी ने कहा कि धीरेंद्र शास्त्री मेरे मन की बात बता कर दिखाएं.

बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर को दी चुनौती 

मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना साजिद ने  बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र शास्त्री को चुनौती देते हुए कहा कि अगर उनमें दम है तो नागपुर की उस संस्था का मुकाबला कीजिए. उनको कहिए कि जहां कहो वहां आ जाता हूं. आप सैकड़ों-हजारों अंधभक्तों के बीच बुलाकर पिटवाना चाहते हो, ऐसे कौन आएगा? मेरा भी आपको चैलेंज है. मेरे सामने आएं और मेरे कुछ सवालों का जवाब दे दें. जो बोलेंगे हार जाऊंगा.

ये ट्रीक है चमत्कार नहीं: साजिद रशीदी 

ऑल इंडिया इमाम एसोसिएशन के अध्यक्ष मौलाना साजिद रशीदी ने आगे कहा कि आपके पास ये ट्रिक है, चमत्कार नहीं है. ये ट्रिक बहुत लोग करते हैं. आपका भी यही काम है, इसके अलावा कोई काम नहीं है. दोस्तों इन लोगों से दूर रहो और जिस तरह के ये बयान दे रहे हैं उनकी निंदा करो. ये देश हिंदू राष्ट्र नहीं बन सकता क्योंकि यहां हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई भाई-भाई की तरह रहते हैं.

ये बाबा नहीं हैं सभ्यता-संस्कृति को बिगाड़ने वाले लोग हैं

उन्होंने कहा कि ये देश की सभ्यता-संस्कृति को बिगाड़ने वाले लोग हैं. ये वो लोग हैं जो जंग-ए-आजादी में अंग्रेजों के साथ खड़े हुए थे. धीरेंद्र शास्त्री से पूछिए क्या उनके खानदान में कोई जंग-ए-आजादी में शहीद हुआ? जो आज वो हिंदू राष्ट्र की बात कर रहे हैं. ये सभी वही लोग हैं.

सोमनाथ मंदिर पर दिया था विवादित बयान 

 मौलाना मोहम्मद साजिद रशीदी  सोमनाथ मंदिर पर बयान देते हुए कहा था कि महमूद गजनवी ने मंदिर तोड़कर गलत नहीं किया क्योंकि वहां गलत काम होता था. मौलाना मोहम्मद साजिद रशीदी के इस बयान सोशल मीडिया यूज़र्स भड़क गए. लोगों का कहना है कि सनातन धर्म के खिलाफ बोलने वालों को सजा मिलनी चाहिए.


RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT