नये साल में वैष्णों माता के दरबार हुई काली सुबह, हुई कई मौतें, जानिये पूरा मामला

साल 2022 की सुबह एक घने अंधेरे के साथ हुई है 2022 की पहली सुबह में ही एक बड़ा हादसा हो गया है. माता वैष्णो देवी मंदिर में नए साल पर दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालुओं में भगदड़ मच गई.

  • 2643
  • 0

साल 2022 की सुबह एक घने अंधेरे के साथ हुई है 2022 की पहली सुबह में ही एक बड़ा हादसा हो गया है. माता वैष्णो देवी मंदिर में नए साल पर दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालुओं में भगदड़ मच गई. भगदड़ की वजह से कुछ लोगों की जान चली गई है तथा बहुत से लोग घायल हुयें हैं. इस दौरान मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. अब तक मरने वालों की संख्या 13 पहुंच चुकी है. इसके अलावा 15 लोगों के घायल होने की खबर भी सामने आई है. सभी का इलाज कटरा और नारायणा हॉस्पिटल में चल रहा है.

इस हादसे के बाद माता वैष्णो देवी की यात्रा को फिलहाल रोक दिया गया है. बचाव कार्य चल रहा है. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे में मारे गए भक्तों के लिए दुख जताया है साथ ही घायलों के जल्द से जल्द ठीक होने की कामना की है. साथ ही भगदड़ में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राहत कोष की ओर से 2-2 लाख रुपये की मुआवजे की राशि दी जाएगी वहीं घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे.


बता दें कि माता वैष्णो देवी के मंदिर में नए साल के मौके पर प्रत्येक वर्ष हजारों की संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचते हैं. भारी संख्या में पहुंचने वाले भक्तों की सुविधा का प्रत्येक वर्ष विशेष ख्याल रखा जाता है, लेकिन शनिवार सुबह हुई इस भगदड़ के बारे में अभी साफ तौर पर कुछ जानकारी नहीं आई है. फिलहाल यही कहा जा रहा है कि भारी भीड़ के चलते वैष्णो माता परिसर में भगदड़ मच गई. बताया गया है कि यह हादसा रात 2-3 बजे करीब हुआ.


ये भी पढ़े : Rashifal January 1, 2022: साल का पहला दिन जिंदगी में लाएगा कई रंग, बदलेगी किस्मत; जानिए अपना राशिफल


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा,' ''माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ में लोगों की मौत से अत्यंत दुखी हूं साथ ही घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. जम्मू के एलजी मनोज सिन्हा से इस हादसे संबधित बात की गई है. डॉक्टर जितेंद्र सिंह और भाजपा के नित्यानंदराय जी ने भी स्थिति का जायजा लिया है''.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT