भारत में मिला COVID का नया AP स्ट्रेन, पहले वाले से 15 गुना ज्यादा संक्रामक

कोरोना वायरस का एक नया वैरिएंट ‘एपी स्ट्रेन’ (AP Strain) सामने आया है. यह वैरिएंट 15 गुना ज्यादा संक्रामक है. यानी पहले की अपेक्षा 15 गुना ज्यादा तक संक्रमण फैला सकता है.

  • 3877
  • 0

भारत में कोरोना की दूसरी लहर तबाही मचा रहा है. इसी बीच कोविड का एक नया वैरिएंट ‘एपी स्ट्रेन’ (AP Strain) सामने आया है. इस वैरिएंट को आंध्र प्रदेश के कुरनूल में खोजा गया है. यह वैरिएंट 15 गुना ज्यादा संक्रामक है. यानी पहले की अपेक्षा 15 गुना ज्यादा तक संक्रमण फैला सकता है. इसकी वजह से 3 से 4 दिन में ही लोग बीमार हो रहे हैं.

ये भी पढ़े:JEE Main May 2021: कोरोना के चलते मई में होने वाला जईई मेन एग्जाम हुए स्थगित, केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने की घोषणा

वैज्ञानिक भाषा में ‘एपी स्ट्रेन’ को N440K वैरिएंट बुलाया जा रहा है. इसकी खोज सेंटर फॉर सेल्यूलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी (CCMB) के साइंसटिस ने की है. यह वैरिएंट B1.617 और B1.618 वैरिएंट से ज्यादा ताकतवर है. पहली कोरोना लहर जैसी हालत नहीं है. इस बार नए वैरिएंट तेजी से लोगों को बीमार कर रहे हैं


बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस का नया एपी स्ट्रेन वैरिएंट जल्दी विकसित हो रहा है. इसका इनक्यूबेशन पीरियड और बीमारी फैलाने की समय सीमा काफी कम है. ये काफी तेजी से फैल रहा है. यह ज्यादा से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर रहा है. इस स्ट्रेन से संक्रमित लोग 3 दिन के अंदर ही गंभीर रुप से बिमार हो सकते है. 


विशाखापट्नम के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर वी.विनय चंद के मुताबिक CCMB में इस समय कई वैरिएंट्स की जांच की जा रही है कि कौन सा वैरिएंट कितना ज्यादा घातक है,  इस बात को तो CCMB के साइंटिस्ट ही बता पाएंगे. लेकिन यह बात सच है कि नया स्ट्रेन मिला है. जिसके सैंपल प्रयोगशाला में भेजे गए हैं.


बताया ये भी जा रहा है कि नया वैरिएंट बड़ी तेजी से युवाओं को टारगेट कर रहा है. ये उन्हें भी नहीं छोड़ रहा है, जो फिटनेस का ख्याल रखते हैं. जिनकी इम्यूनिटी बहुत मजबूत है, उन्हें अपनी चपेट में ले रहा है. इसलिए सबसे अच्छा तरीका यही है कि अच्छे मास्क पहनना, सभाओं से दूर रहना, हाथों को नियमित रूप से साफ करना और जहाँ तक संभव हो सके घर पर रहना जरूरी है.

ये भी पढ़े:एक मां की मज़बूरी: बेटियों को मारने के बाद ख़ुद लगाई फांसी



दक्षिण भारत में इस समय पांच मुख्य कोरोना वैरिएंट फैले हुए हैं. इनमें शामिल है B.1,B.1.1.7,B.1.351,B.1.617 और B.1.36*. ऐसा देखने को मिल रहा है कि दक्षिण भारत के आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना में इस समय एपी स्ट्रेन यानी N440K वैरिएंट काफी तेजी से फैल रहा है.

LEAVE A REPLY

POST COMMENT